अमित शाह की रैली पडी बच्चे पर भारी, वी.एन. स्कूल के टीचर ने की बच्चे की बेरहमी से पिटाई

रानियां(अमनदीप)। शहर के नानुआना मार्ग पर स्थित वी.एन. सीनियर सकैण्डरी स्कूल के अध्यापक की ओर से सातवीं कक्षा के बच्चे की बेरहमी से पिटाई करने का मामला सामने आया है। सातवीं के छात्र हेमंत के पिता अश्विनी कुमार ने वी.एन. स्कूल रानियां में कार्यरत अध्यापक दीपक कुमार की ओर से हेमंत की बेरहमी से पिटाई करने का आरोप लगाया है। बच्चे को गंभीर हालात में रानियां के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दाखिल करवाया गया। यहां से उसे प्राथमिक उपचार के बाद सिरसा रैफर कर दिया गया। पुलिस में मौके पर पंहुच कर ब्यान दर्ज कर कार्यवाही शुरु कर दी। 
          रानियां के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में उपचार के लिए आए वी.एन. स्कूल के सातवीं कक्षा के छात्र हेमंत ने बताया कि वह रोज मर्रा की तरह मंगलवार को स्कूल गया था। करीब 1:30 बजे वह कलास में छात्रों के साथ बैठा था। तभी स्कूल के ऊपर गुजरने वाले हैलीकाप्टर की आवाज आई। आवाज सुनते ही सभी छात्र खिडकी से हैलीकाप्टर को देखने लगे। छात्रों को ऐसा करते देख स्कूल के अध्यापक आपे से बाहर हो गए और उसने छात्रों को धमकाना शुरु कर दिया। जिसके बाद बाकी सभी छात्र तो वहां से बच कर भाग गए और उसको अध्यापक ने पकड लिया। पकडने के बाद अध्यापक ने अनेक अपशब्द बोले और उसकी बेरहमी से पिटाई की। जिससे उसके पैर व पीठ पर गंभीर चोटें आई हैं। बच्चे के पिता अश्विनी कुमार ने बताया कि कल की घटना के बाद जब बच्चा घर पंहुचा तो वह सहमा हुआ था। उसने इसके बारे में कुछ नहीं बताया। जब रात को चोटों की वजह से उसे ज्यादा दर्द उठा तो उसने घटना के बारे में बताया। बच्चे ने उसे अध्यापक दीपक कुमार की ओर से उसे बेरहमी से पीटने की बात कही। इस बारे में जब उन्होनें अध्यापक दीपक कुमार से बात की तो दीपक कुमार ने अभद्र शब्दों का इस्तेमाल किया। सुबह होते ही उसे उपचार के लिए रानियां के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में लेकर आए। चोटें गंभीर होने की वजह से उसे सिरसा रैफर कर दिया गया।  इस बारे में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सक राजेंद्र कुमार ने बताया कि बच्चे को प्राथमिक उपचार दिया गया है। बच्चे का चिकित्सीय परीक्षण किया गया है। बच्चे के पैर व पीठ पर चोटें गंभीर हैं। बच्चे को आगामी उपचार के लिए सिरसा रैफर कर दिया गया है। मौके पर पंहुचे पुलिस कांस्टेबल राजेंद्र कुमार ने बताया कि इनकी शिकायत मिली है। दोनों पक्षों के ब्यान दर्ज किए गए हैं। जल्द ही उचित कार्यवाही की जाएगी। स्कूल प्रशासन की ओर से इस घटना पर पल्ला झाडते हुए स्कूल की प्राचार्य सतवंत कौर ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया। उन्होनें कहा कि यह बच्चों का आपसी मामला होगा। ऐसा कुछ भी नहीं है। 

No comments