जेसीडी इंजीनियरिंग कॉलेज में नवागन्तुक हेतु स्वागत एवं सीनियर्स के लिए विदाई समारोह 'खुशामदीद' का आयोजन - The Pressvarta Trust

Breaking

Saturday, October 11, 2014

जेसीडी इंजीनियरिंग कॉलेज में नवागन्तुक हेतु स्वागत एवं सीनियर्स के लिए विदाई समारोह 'खुशामदीद' का आयोजन

सिरसा(प्रैसवार्ता)। जेसीडी विद्यापीठ में स्थापित इंजीनियरिंग कॉलेज के इलैक्ट्रॉनिक्स विभाग के एम.टेक के छात्र-छात्राओं द्वारा नवागन्तुक विद्यार्थियों के लिए स्वागत समारोह तथा सीनियरर्स के लिए सम्मानपूर्वक विदाई पार्टी 'खुशामदीद' का आयोजन किया गया, जिसका शुभारंभ जेसीडी विद्यापीठ के प्रबन्ध निदेशक रियर एडमिरल राव सुरेन्द्र सिंह द्वारा बतौर मुख्यातिथि उपस्थित होकर किया। कार्यक्रम का शुभारंभ प्रबन्ध निदेशक राव सुरेन्द्र सिंह, कॉलेज के प्राचार्य डॉ. गुरचरण दास, विभागाध्यक्ष मनीष मेहता एवं अध्यक्ष सुखदीप कौर द्वारा मां सरस्वती के चरणों में ज्योत प्रज्ज्वलित करके किया गया।  इस कार्यक्रम के प्रारंभ में संस्थान के प्राचार्य डॉ. गुरचरण दास ने मुख्यातिथि सहित सभी गणमान्य लोगों एवं नवआगन्तुक विद्यार्थियों का स्वागत किया तथा संस्थान की नियमावली एवं रूपरेखा को विस्तारित किया। उन्होंने कहा कि नवआगन्तुक विद्यार्थियों के लिए यह प्रथम मंच है परंतु उन्हें इसमें अपना अच्छा प्रदर्शन करने का प्रयास करके अपनी सांस्कृतिक कला में रूचि को बढ़ाना चाहिए ताकि उनका सम्पूर्ण विकास हो सकें। डॉ. दास ने कहा कि उसी प्रकार यह विदाई प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों के लिए एक नई मंजिल की ओर अग्रसर होने का भी यह समय है। उन्होंने सभी विदाई मिलने वाले विद्यार्थियों को कामयाबी हासिल करने के लिए अपना आशीर्वाद प्रदान किया। इस उपलक्ष्य में विद्यार्थियों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें सर्वप्रथम द्वितीय वर्ष की छात्रा प्रेरणा ने 'कुडिय़ै नी तेरे ब्राउन रंग नै' पर डांस प्रस्तुत किया। वहीं प्रथम वर्ष की छात्राएं वन्या, सांची व नेहा ने 'ये मेरा दिवानापन है' पर मनमोहक नृत्य प्रस्तुत करके वाहवाही लूटी गई। इसके पश्चात् अंतिम वर्ष के छात्र विजय वर्मा ने 'जॉनी-जॉनी' गीत पर नृत्य प्रस्तुत करके दर्शकों को झूमने पर विवश किया। उधर अंतिम वर्ष की ही छात्रा हरविंदर ने पंजाबी गीत 'जुल्फां दे नाग बना ले' पर नृत्य प्रस्तुत किया। तत्पश्चात् द्वितीय वर्ष की छात्राएं प्रेरणा, प्रभजोत, मेघा व प्रेरणा मेहता ने 'कमली मैं कमली' गीत पर गु्रप डांस प्रस्तुत किया।  इस मौके पर बतौर मुख्यातिथि अपने संबोधन में राव सुरेन्द्र सिंह ने कहा कि केवल डिग्री लेना ही एक विद्यार्थी का ध्येय नहीं होना चाहिए बल्कि अच्छे शिक्षण संस्थान से बेहतर शिक्षा प्राप्त करके अपने भविष्य को उज्ज्वल बनाने का प्रयास करना चाहिए। उन्होंने कहा कि सफलता के लिए कोई शॉर्टकट रास्ता नहीं है बल्कि इसके लिए तो हमें मेहनत करनी पड़ती है, इसलिए आप लोग खूब लग्र व मेहनत से अपनी शिक्षा के कार्य में लग जाएं तो सफलता आपको स्वयं ही प्राप्त हो जाएगी। उन्होंने विद्यार्थियों का मनोबल बढ़ाते हुए कहा कि हमें प्रत्येक व्यक्ति या वस्तु, स्थान इत्यादि से कुछ न कुछ सीखने को मिलता है परंतु उसके लिए हमें खुद में इस सीखने की आदत को अपनाना होगा और इसी के सहारे हम कामयाबी हासिल कर सकते हैं। श्री राव ने सभी विद्यार्थियों को उनके उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं प्रदान करते हुए कहा कि अच्छा करें ताकि परिवार, समाज ही नहीं अपितु सम्पूर्ण राष्ट्र में आपका और आपके माता-पिता का नाम रोशन हो सके।  इन सभी के अलावा प्रतियोगिताओं के आधार पर इलैक्ट्रॉनिक्स विभाग की असिस्टैंट प्रो. सिल्की, वीना रानी व रंजनी जांगड़ा द्वारा निर्णायक मण्डल की भूमिका निभाते हुए हरविंदर कौर को मिस. फेयरवेल तथा अंकित को मिस्टर फेयरवेल के खिताब से नवाजा गया। वहीं प्रथम वर्ष के छात्रों में सांची व बूटा सिंह को क्रमश: मिस व मिस्टर फ्रेशर चुना गया। अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों में विजय को मिस्टर ईव व शैली मखीजा को मिस ईव चुना गया तो प्रथम वर्ष की नेहा सिंगला को मि. ईव के खिताब से सम्मानित किया गया। इस अवसर पर अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों में से कमल जैन को 'सबसे चहेता सीनियर' के खिताब प्रदान किया गया।  इस मौके पर जेसीडी बहुतकनीकि संस्थान के समस्त स्टाफ सदस्य एवं विद्यार्थीगणों सहित अन्य अनेक गणमान्य लोग भी उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a Comment

Pages