ईवीएम में गड़बड़ी व फर्जी वोटों के सहारे चुनाव जीते है रणदीप सुरजेवाला - The Pressvarta Trust

Breaking

Monday, October 20, 2014

ईवीएम में गड़बड़ी व फर्जी वोटों के सहारे चुनाव जीते है रणदीप सुरजेवाला

कैथल(राजकुमार अग्रवाल)। भाजपा प्रत्याशी राव सुरेन्द्र सिंह को चुनाव में मिली हार को लोगों ने एक साजिश बताया है। सैकड़ों लोगों ने कैथल प्रशासन पर कांग्रेस प्रत्याशी रणदीप सुरजेवाला के समर्थन में फर्जी वोट डलवाने के आरोप लगाए हैं। लोगों ने आरोप लगाया है कि कैथल की जनता पर राव सुरेन्द्र सिंह के समर्थन में मतदान किया है, लेकिन उसके बावजूद भी रणदीप सुरजेवाला की जीत होना चुनावों में गड़बड़ी के संकेत दे रहा है। सैकड़ों की संख्या में भाजपा कार्यकत्र्ताओं ने जवाहर पार्क से लघु सचिवालय तक प्रदर्शन किया और कैथल में रणदीप सुरजेवाला द्वारा चुनावों में डलवाई गई फर्जी वोटों की जांच व उन पर केस दर्ज कर गिरफ्तार करने की मांग की। लोगों ने अपना ज्ञापन डीएसपी को राज्यपाल के नाम दिया है। भाजपा नेताओं का आरोप है कि कांग्रेस प्रत्याशी फर्जी वोटों व प्रशासन की मिलीभगत तथा ईवीएम मशीनों में गड़बड़ी कर चुनाव जीता है। उन्होंने चुनाव आयोग से भी इस संदर्भ में कार्रवाई करने की मांग की है। भाजपा वर्कर सोमवार को सुबह जवाहर पार्क में सुरेश गर्ग, प्रयाग राज बालू, अशोक गोयल, सुरेंद्र सिंह, पाला राम सैनी के नेतृत्व में एकत्र हुए। भाजपा वर्करों को संबोधित करते हुए सुरेश गर्ग ने कहा कि कैथल की जनता भाजपा प्रत्याशी को विजय बनाना चाहती थी, लेकिन प्रशासन की मिलीभगत के कारण कांग्रेस को यहां जीत मिली है। उन्होंने कहा कि कैथल विधानसभा में हजारों फर्जी वोट बने हुए  हैं। इस बारे में हाईकोर्ट में भी अपील की है, लेकिन प्रशासन ने आज तक फर्जी वोटों को मतदाता सूची से बाहर नहीं किया है, जिस कारण कांग्रेस के वर्करों ने गलत तरीके से इन वोटों को डाला। उन्होंने कहा कि इस बारे में पोलिंग एजेंटों ने एतराज जताया था, लेकिन उनके एतराज को दरकिनार कर दिया गया। उन्होंने कहा कि कई गांवों में वोटें ज्यादा पोल दिखाई गई हैं, जबकि पोलिंग एजेंटों की लिस्ट से यह मेल नहीं खाती हैं। जिससे साफ है कि ईवीएम मशीनों में भी गड़बड़ की गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार बनने वाली है। वे एक-एक बाद का बदला लेंगे। उन्होंने कहा कि वे अपना संघर्ष जारी रखेंगे चाहे इसके लिए कितना ही समय लग जाए। पाला राम सैनी व अन्य वक्ताओं ने कहा कि कैथल की जनता भाजपा को जीत दिलाना चाहती थी, लेकिन गड़बड़ कर भाजपा प्रत्याशी को हरा दिया गया। इसके बाद सभी वर्कर प्रदर्शन करते हुए पेहवा चौक, करनाल रोड से होते हुए सचिवालय पहुंचे। सचिवालय के बाहर पहले से ही भारी पुलिस बल तैनात था। पुलिस ने सभी प्रदर्शनकारियों को बाहर ही रोक लिया। जिस कारण सड़क पर 20 मिनट तक जाम की स्थिति रही। सभी वर्कर प्रदर्शन के दौरान सड़क पर ही बैठ गए। इस दौरान भाजपा वर्करों ने प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। इसके बाद भाजपा नेताओं ने एसडीएम नरहरि बांगड व डीएसपी टेकन राज को अपना ज्ञापन राज्य पाल के नाम सौंपा। इसके बाद सभी लौट गए।

No comments:

Post a Comment

Pages