सिरसा में नए चेहरों पर विश्वास जताया है सभी दलों ने

सिरसा(प्रैसवार्ता)। हरियाणा विधानसभा के 15 अक्टूबर को होने वाले चुनाव में कांग्रेस, भाजपा, इनैलो, हलोपा ने जिला सिरसा में नए चेहरों पर दाव लगाया है। प्रदेशभर में सत्तारूढ़ कांग्रेस की अपनों ने ही बेचैनी बढ़ाई हुई है, क्योंकि टिकट से वंचित टिकटार्थियों को भीतरघात की चपेट में लिए हुए है। ''प्रैसवार्ता" द्वारा किए गए सर्वे के अनुसार जिला सिरसा के डबवाली क्षेत्र से इनैलो ने मौजूदा विधायक अजय चौटाला की धर्मपत्नी नैना सिंह चौटाला, कांग्रेस ने डॉ. के.वी सिंह, भाजपा ने देव कुमार शर्मा को अपना प्रत्याशी बनाया है। इनैलो के गढ़ कहे जाने वाले इस क्षेत्र से हो रहे तिकौने मुकाबले में इनैलो प्रत्याशी की बढ़त देखी जा रही है। ऐलनाबाद से मौजूदा इनैलो विधायक अभय सिंह चौटाला को अपने करीबी मित्र रहे पवन बैनीवाल भाजपा प्रत्याशी से कड़ी टक्कर मिल रही है, जबकि कांग्रेस प्रत्याशी रमेश भादू भी मुकाबले में पहुंचने के लिए एडी चोटी का जोर लगाए हुए है। कालांवाली से कांग्रेस शीशपाल केहरवाला, भाजपा राजेंद्र देसूजोधा तथा शिरोमणी अकाली दल के बलकार सिंह के बीच चुनावी घमासान देखा जा रहा है, मगर इस क्षेत्र में कांग्रेस प्रत्याशी का पलड़ा भारी नजर आता है। कांग्रेस प्रत्याशी पर पूर्व कांग्रेसी विधायक मनीराम केहरवाला की काली छाया पड़  सकती है, क्योंकि मनीराम केहरवाला इस क्षेत्र से टिकट के दावेदार थे और टिकट न मिलने पर कांग्रेस छोड़ चुके है। रानियां क्षेत्र में कांग्रेस ने रंजीत सिंह, इनैलो ने रामचंद्र कंबोज, भाजपा ने पूर्व मंत्री जगदीश नेहरा तथा हलोपा ने गोबिंद कांडा को चुनावी समर में उतारा है। इस क्षेत्र में कांग्रेस व हलोपा के बीच चुनावी घमासान नजर आ रहा है। सिरसा में कांग्रेस के नवीन केडिया, इनैलो के मक्खन सिंगला, भाजपा की सुनीता सेतिया, हलोपा के गोपाल कांडा प्रत्याशी है तथा चारों में ही मुकाबला देखा जा रहा है। कांग्रेस प्रत्याशी को कांग्रेस टिकट के दावेदार  रहे होशियारी लाल शर्मा तथा भूपेश मेहता के भीतरघात का सामना करना पड़ रहा है, वहीं कांग्रेस से अलविदाई लेकर भाजपाई ध्वज उठाने वाली सुनीता सेतिया का पलड़ा स्पष्ट रूप से भारी दिख रहा है। इस क्षेत्र के मतदाताओं की रहस्यमयी चुप्पी किसी पर विधायिकी की मोहर लगा सकती है। जातीय समीकरणों की चपेट में रही इस क्षेत्र की राजनीति में अग्रवाल वैश्य समाज तथा पंजाबी समुदाय का बोलबाला रहा है। अग्रवाल वैश्य समाज से इनैलो, कांग्रेस व हलोपा के प्रत्याशी है, जबकि बसपा प्रत्याशी भी इसी समाज से है। भाजपा प्रत्याशी पंजाबी समाज से है और एक लंबे समय से  इस क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुके पूर्व मंत्री स्व.लछमण दास अरोड़ा की बेटी है। जिला सिरसा में कांग्रेस ने ऐलनाबाद, सिरसा तथा कालांवाली, इनैलो ने सिरसा, डबवाली तथा रानियांं, शिरोमणी अकाली दल ने कालांवाली, हलोपा ने रानियां, भाजपा ने सिरसा, रानियां, ऐलनाबाद, कालांवाली तथा डबवाली से नए चेहरों पर दाव खेला है। भाजपा के तीन प्रत्याशी पैराशूट से उतरकर भाजपाई ध्वज उठाकर टिकट हासिल करने में सफल रहे है, जबकि इनैलो से विधायक कृष्ण कंबोज टिकट न मिलने पर इनैलो को अलविदा कहकर हलोपा में शामिल हो चुके है।

No comments