चुनाव में मतदान सर्वोच्च, वोट जरूर ड़ाले....

सिरसा(प्रैसवार्ता)। हरियाणा विधानसभा आम चुनाव- 2014 को सुचारु रूप से सम्पन्न करवाने के उद्देश्य से स्थानीय चौ. देवी लाल विश्वविद्यालय के मल्टीपर्पज हाल में प्रजाईडिंग व अल्टरनेट प्रजाईडिंग तथा चुनाव से जुड़े अधिकारियों की द्वितीय पायलट रिहर्सल हुई। इस अवसर पर श्री लक्कुवेंक्टेश्वर लू, जरनल पर्यवेक्षक कालांवाली व सिरसा विधानसभा क्षेत्र ने उपस्थित अधिकारियों / कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि आगामी 15 अक्तूबर को होने वाले हरियाणा विधानसभा चुनाव को स्वतंत्र, शंाति पूर्वक व पारदर्शी रूप से सम्पन्न करवाने में पूरा योगदान दे तथा चुनाव संबंधी सभी प्रकार की जानकारी को गहनता से ध्यान में ले उन्होंने कहा कि 15 अक्तूबर को होने वाले चुनाव का पूर्ण रूप से प्रशिक्षण ले। प्रशिक्षण के दौरान सभी प्रकार की प्रक्रिया सभी ढंग से जाने। यदि किसी बिन्दू पर विवाद होने की संभावना हो तो इस बारे मास्टर टे्रनरों व रिट्रर्निंग अधिकारियों से पहले से पूर्ण जानकारी प्राप्त कर ले तथा रिट्रर्निंग अधिकारियों व मास्टर ट्रेनरों के मोबाइल नम्बर अपने पास रखें ताकि मतदान के दिन किसी भी प्रकार की कोई समस्या या परेशानी आये तो तुरन्त समाधान भी किया जा सके। उन्होंने कहा कि चुनाव संबंधी कार्य बहुत ही महत्वपूर्ण है, इस कार्य को गम्भीरता पूर्वक, समझदारी, विश्वसनीयता व अच्छी मन्शा के साथ करंे ताकि चुनाव स्वतंत्र, शांति पूर्वक व पारदर्शी हो सके। उन्होंने कहा कि अधिकारी ड्यूटी के समय किसी भी राजनैतिक पार्टी का पक्ष न ले तथा निष्पक्ष हो कर चुनाव करवाना सुनिश्चित करें।  चुनाव पर्यवेक्षक  स्वीप श्री वी पलानी चेमी  ने कहा कि प्रजातंत्र को मजबूत करने में चुनाव को ठीक ढंग से सम्पन्न करवाएं। हमे खुद को भी वोट डालना चाहिए और अपने माता पिता को भी वोट डालने के लिए पे्ररित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि चुनाव में मतदान सर्वोच्च है, मतदाताओं की शंका दूर करके प्रजातंत्र की मजबूती के लिए मिलजुल कर कार्य करना चाहिए, हमें शारीरिक व दिमागी तौर पर दोनों तहर से ठीक रहना चाहिए और सभी अधिकारी व कर्मचारी मिलजुुल कर कार्य कर चुनाव को ठीक ढंग से सम्पन्न करवाएं। उन्होंने मत प्रतिशतता  को बढ़ाने पर भी बल दिया।  इस अवसर पर रिटर्निंग अधिकारी व अतिरिक्त उपायुक्त सिरसा  श्री राजेश जोगपाल ने जरनल पर्यवेक्षक व स्वीप पर्यवेक्षक का स्वागत करते हुए कहा कि जिस प्रकार सभी कर्मचारियों व अधिकारियों ने पिछले लोकसभा चुनाव मे जिस उत्साह से कार्य किया इसी प्रकार 15 अक्तूबर को होने वाले विधानसभा चुनाव में उस से अधिक उत्साह से कार्य करे ताकि चुनाव सही ढंग से सम्पन्न हो सके। उन्होंने कहा कि मतदान के दिन सभी बूथों के इन्चार्ज अधिकारी व कर्मचारी ही हैं। जो भी जितनी भी तैयारियां की जा रही है, यह सारा कार्य आप सभी पर ही निर्भर है। मास्टर टे्रनरों द्वारा दिया जाने वाला प्रशिक्षण पूर्ण रूप से प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि मतदान के दिन मोक पोल कैसे करना है, ईवीएम मशीन को कैसे सेट करना है तथा चुनाव की अंतिम प्रक्रिया के बारे में भी पूर्ण जानकारी प्राप्त करें ताकि चुनाव के दिन किसी प्रकार की कोई दिक्कत ना आए। इस प्रशिक्षण में पोस्ट बैल्ट पेेपर कैसे भरना है तथा हैंड बुक को पूरी तरह पढ कर सभी नियमों के बारे में जानकारी ले। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र मे सबसे बड़ी प्रक्रिया चुनाव की है। इन चुनावों का निष्पक्ष, स्वतंत्र व शांति पूर्वक सम्पन्न करवाने मे पूरा सहयोग दें तथा जिले में मतप्रतिशतता और अधिक बढ़ाने  के लिए अपने आस पड़ोस के लोगों को भी पे्ररित करें। 

No comments