गोपाल कांडा व गोबिंद कांडा के खिलाफ एक बार फिर धरने व भूख हड़ताल पर बैठूंगा: बिल्डर सुखविंद्र

सिरसा(प्रैसवार्ता)।  गोपाल कांडा व गोबिंद कांडा से लेनदेन मामले में 48 दिन सपरिवार भूख हड़ताल रखने तथा करीब दो महीने तक संघर्षरत् रहे बिल्डर सुखविंद्र सिंह का आरोप है कि प्रशासन के हस्तक्षेप से उनका समझौता 65 लाख रूपये तथा शटरिंग वापिसी पर हो गया था, जिस पर कांडा बंधुओं ने उसे 65 लाख रूपये तो दे दिए, मगर पूनम सेठी, महेंद्र सेठी, रवि सैनी व सुशील शर्मा कांडा बंधुओं के इशारे पर शैटरिंग व शैटरिंग का किराया वापिसी नहीं कर रहे। सुखविंद्र सिंह आज एक निजी होटल में पत्रकारों से रूबरू हो रहे थे। बिल्डर सुखविंद्र सिंह  ने मीडिया का आभार व्यक्त करते हुुए कहा कि उसे न्याय दिलवाने में मीडिया का महत्वपूर्ण योगदान है। वह जिला मोगा(पंजाब) से संबधित है, मगर अब परिवार सहित सिरसा में रहते है, इसलिए उन्हें सिरसा का वासी ही समझा जाए। उन्होंने कहा कि कांडा बंधुओं का व्यापारिक संबंध ठीक नहीं है, जिनकी वजह से मेरे जैसे कोई लोग ओर भी भटक रहे है। प्रशासन के हस्तक्षेप के बावजूद मैंने सवा करोड़ रूपये की बजाए 65लाख रूपये लेने को स्वीकार किया। मुझ पर कांडा समर्थक अंग्रेज बठला, सुरेंद्र मिचनाबादी सहित अन्य कांडा समर्थकों ने बेबुनियाद, मनघडंत आरोप लगाए थे, कि मैंने कोई पैसा नहीं लेना, जबकि सच्चाई यह मुझे 65 लाख रूपये, जिसमें 50 लाख रूपये का चैक और 15 लाख कैश कांडा बंधुओं द्वारा दिया गया था। मुझ पर आरोप लगाने वालों के खिलाफ मैं अदालत की शरण में जा रहा हूं। उन्होंने कहा कि कांडा बंधुओं की वजह से मेरा बिजनेस खराब हो गया है, अगर शैटरिंग और शैटरिंग का किराया नहीं दिया गया, तो मैं धरने व भूख हड़ताल पर दोबारा बैठूंगा। सुखविंद्र सिंह ने मीडिया की सराहना करते हुए कहा है कि मीडिया ने सही भूमिका अदा की है और वह मीडिया से उम्मीद करते है कि भविष्य में मीडिया महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हुए सत्यता का साथ देगा। इस अवसर पर एचएस बिल्डर्स से हरबंस सिंह, श्री बाला जी शैटरिंग स्टोर, विजय बल्लभ शैटरिंग स्टोर, संत साहब शैटरिंग स्टोर इत्यादि की ओर से गणमान्य भी मौजूद थे।

No comments