ऐसे खुलता है SWISS बैंक में खाता, बगैर नाम बताए भी होता है लेन-देन - The Pressvarta Trust

Breaking

Wednesday, October 29, 2014

ऐसे खुलता है SWISS बैंक में खाता, बगैर नाम बताए भी होता है लेन-देन

नई दिल्ली। देश में कालेधन को लेकर मचा बवाल स्विस बैंक के इर्द-गिर्द ही घूम रहा है, जिसे देखते हुए यह सवाल उठना लाजमी है कि ऐसा क्या है, जिसकी वजह से सभी पैसे वाले लोग स्विस बैंक में ही खाता खोलते हैं। क्या केवल बड़े धन कुबेर ही स्विस बैंक में खाता खोल सकते है? यह सवाल उठना लाजमी है, लेकिन सच्चाई यह है कि कोई भी स्विस बैंक में अपना खाता खोल सकता है। आइए जानते हैं स्विस बैंक में कैसे खुलवाया जा सकता है खाता-
 
ऐसे खुलवा सकते हैं खाता
        आप स्विटजरलैंड में स्थित किसी भी बैंक में खाता खोलने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए बैंक आपके पहचान संबंधी दस्तावेजों को कॉरेस्पोंडेंस के जरिए मंगाता है। इसे आप ई-मेल के जरिए भी भेज सकते हैं। केवल बिना नाम वाला खाता खोलने के लिए ही आपको स्विटजरलैंड जाना जरूरी होता है। आपके पहचान संबंधी दस्तावेजों का किसी सरकारी एजेंसी से प्रमाणित होना जरूरी है, जिसके आधार पर स्विटजरलैंड के बैंक में आप पर्सनल अकाउंट, सेविंग्स अकाउंट और इन्वेस्टमेंट अकाउंट सहित दूसरे खाते खुलवा सकते हैं।
 
बिना नाम के भी खुलते हैं खाते
             अपनी गोपनीयता की वजह से दुनिया भर में लोकप्रिय स्विस बैंक ग्राहकों को नंबर के आधार पर भी खाता खोलने का मौका देते हैं, यानी कि खाते पर आपका नाम नहीं होगा।
 
नंबर से ही होता है सारा लेन-देन
             सारा लेन-देन नंबर के आधार पर होगा, लेकिन इस तरह का खाता खोलने की प्रक्रिया काफी सख्त है। खाता खोलने वाले को खुद बैंक में जाकर अपनी पूरी जानकारी देनी पड़ती है। इसके अलावा यह खाता न्यूनतम 1 लाख डॉलर की पूंजी से खोला जा सकता है। खाता धारक के नाम की जानकारी केवल बैंक के कुछ चुनिंदा वरिष्ठ अधिकारियों के पास होती है।

कोई भी वयस्क खोल सकता है खाता
            कोई भी व्यक्ति, जिसकी उम्र 18 साल से ज्यादा है, वह स्विस बैंक में अपना खाता खोल सकता है। भारतीय भी इसी कड़ी में अपना खाता खोल सकते हैं। हालांकि, खाता खोलने का अंतिम अधिकार दूसरे बैंकों की तरह स्विस बैंक के पास होता है। बैंक खाता खोलते वक्त खास तौर से पूंजी के स्रोत आदि पर कड़ी पड़ताल करता है, जिसमें राजनीतिक शख्सियत आदि का खाता खोलते वक्त खास पड़ताल की जाती है।

No comments:

Post a Comment

Pages