प्रदेशाध्यक्षों की नगरी की ओर बढ़ रहा है सिरसा - The Pressvarta Trust

Breaking

Sunday, November 16, 2014

प्रदेशाध्यक्षों की नगरी की ओर बढ़ रहा है सिरसा

सिरसा(प्रैसवार्ता)। भाजपा हरियाणा के प्रदेशाध्यक्ष राम बिलास शर्मा के मंत्री बनने उपरांत राज्य में भाजपाई प्रदेशाध्यक्ष की तलाश शुरू हो गई है और क्यास यह लगाए जाने लगे है कि इनैलो के इस गढ़ में कांग्रेस, हलोपा के बाद भाजपा का प्रदेशाध्यक्ष भी नजर आ सकता है। कांग्रेस के मौजूदा प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर सिरसा से पूर्व सांसद है, हलोपा के प्रदेशाध्यक्षा गोपाल कांडा सिरसा से ही पूर्व विधायक है, जबकि इनैलो नेता अभय चौटाला और उनकी बड़ी भाभी नैना चौटाला सिरसा जिला से ही विधायक चुने गए है और भाजपा के संभावित प्रदेशाध्यक्ष गणेशीलाल भी सिरसा से विधायक रह चुके है। हरियाणा में अपने बलबूते पर बनी भाजपा सरकार में गैर जाट को मुख्यमंत्री बनाए जाने पर जाट भाजपाई दिग्गज को भाजपा की कमान सौंपे जाने की संभावनाएं बन गई थी, मगर चार जाट विधायकों को हरियाणा की भाजपा सरकार में भागीदारी तथा कांग्रेस से भाजपाई बने वीरेंद्र डूमरखां को कैबिनेट मंत्री भारत सरकार बनाए जाने उपरांत राज्य में भाजपाई जनाधार बढ़ाने तथा संगठन को मजबूती देने के लिए भाजपा का शीर्ष नेतृत्व अनुभवी गणेशी लाल को पार्टी की कमान सौंपने पर गंभीरता से विचार कर रहा है। भाजपा अग्रवाल वैश्य समाज को भी भागीदारी देने को लेकर गहरी रूची रखती नजर आ रही है। यदि भाजपा वैश्य समाज को पार्टी की कमान देती है, तो गणेशीलाल पहले नंबर पर है, जो पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष रहकर अपनी जिम्मेवारी बखूबी निभाने का प्रमाण भी दे चुके है। राज्य के विधानसभा चुनाव में गणेशीलाल ने चुनावी कार्यालय संभालने के साथ साथ कांग्रेस व इनैलो में सेंधमारी करके भाजपा को सत्ता तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, जिसका उपहार उन्हें भाजपा द्वारा दिया जाना यकीनी माना जा रहा है।  भाजपा गणेशीलाल को पार्टी की कमान देती है या किसी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी संभलाती है, यह तो आने वाला समय ही बताएगा, मगर गणेशीलाल की राजनीतिक लाटरी कभी भी खुल सकती है, इससे इंकार नहीं किया जा रहा।

No comments:

Post a Comment

Pages