सिरसा पहुंचे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर

सिरसा(प्रैसवार्ता)। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिस परिवर्तन के साथ लोगों ने भारतीय जनता पार्टी की सरकार चुनी है। सरकार की प्राथमिकता व्यवस्थाओं में बदलाव लाने की है और जनभावना के अनुरूप कार्य करने के लिए सभी अधिकारी प्रात: 11 बजे से 12 बजे तक अपने कार्यालय में अवश्य बैठे ताकि लोगों को अनुभव हो कि नई सरकार उनके हित की सरकार है। मुख्यमंत्री आज लघु सचिवालय परिसर में जिला प्रशासन के अधिकारियों की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार को बने 45 दिन हुए हैं और जिलों के अधिकारियों के साथ उनकी 12वीं बैठक है।  शेष जिलो के अधिकारियों के साथ भी बैठके करने का कार्यक्रम निर्धारित है।  उन्होंने कहा कि जिस प्रकार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वयं को देश का प्रधान सेवक माना है ठीक उसी प्रकार हम सबको प्रदेश की जनता का सेवक बन कर ही कार्य करना है। नेताओं, अधिकारियों व जनता के बीच जो दूरी व अविश्वास बना हुआ है उसे हमें खत्म करना है और इसके लिए सभी को बेहतर तालमेल बनाकर नियमानुसार कार्य करना होगा।  बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों  को निर्देश दिए कि वे कर्तव्य निष्ठा भाव से लोगों की सेवा करें। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार आज समाज में एक कैंसर का रूप धारण कर चुका है इसे हमें प्राथमिकता के आधार पर खत्म करना है। उन्होंने कहा कि सरकार बनना लोकतंत्र में निरन्तर प्रक्रिया है। पिछली सरकारों में अब तक जो हुआ है, उसे छोड़कर हमें आगे क्या करना है इस पर फोकस करना होगा। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों व अधिकारियों को समझना चाहिए कि सरकार की ओर से  को वेतन के रूप में जो उन्हें मिल रहा है, वह काफी है अगर आवश्यकता हुई तो हम इसमें इजाफा भी करेंगे।  मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार का लक्ष्य गरीबों, पीडि़तों के उत्थान व भलाई के लिए कार्य अन्नतोदय अर्थात अन्तिम का उदय सिद्धान्त अपना कर करने का है। उन्होंने कहा कि वंचित व्यक्ति को अपने पैरों पर खड़ा करने के लिए सरकार की ओर से प्रयास किया जाएगा और बाद में वह स्वयं आगे बढऩे में सक्षम होगा। उन्होंने कहा कि आज सूचना प्रौद्योगिकी का युग है और प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के डिजिटल इण्डिया विजन के अनुरूप प्रदेश सरकार ने भी हर जिला मुख्यालय पर सी एम विंडों स्थापित करने का निर्णय लिया है जहां पर कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत अपने मोबाईल नम्बर व ई मेल पत्ते के साथ दे सकता है जो सीधे चण्डीगढ़ में मुख्यमंत्री को प्राप्त होगी।  श्री मनोहर लाल ने कहा कि हमें आगे बढऩे के लिए कार्य करना है। सूचना का अधिकार हमारा संवैधानिक अधिकार है इसके तहत कोई भी व्यक्ति किसी प्रकार की जानकारी मांग सकता है परन्तु ऑनलाईन प्रणाली लागू होने से काफी सूचनाएं पब्लिक डोमेन से प्राप्त की जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि लोगों की धारणा है कि तहसीलों में भ्रष्टाचार सबसे अधिक है इसलिए सरकार ने सबसे पहले रजिस्ट्रियां ऑन लाईन करने का निर्णय लिया है इसके लिए सम्पति बेचने व खरीदने वाला आवश्यक स्टाम्प फीस व अन्य दस्तावेज सम्बन्धित अधिकारी के पास जमा करवा कर रजिस्ट्री अपने घर प्राप्त कर सकता है।  बैठक में उपायुक्त निखिल गजराज ने जिले की भौगोलिक, सामाजिक पृष्ठभूमि के साथ-साथ जिले में चल रही विभिन्न परियोजनाओं पर एक प्रस्तुतिकरण दिया। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से अपील करते हुए कहा कि वे लोगों को बिजली के बिल भरने, व सामाजिक सुरक्षा पैंशन के लिए बैंक खाते खुलवाने के लिए प्रेरित करें इस पर दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण के अधिकारियों ने मुख्यमंत्री को अवगत करवाया कि नई सरकार बनने के बाद जिले में बिल अदायगी की  प्रतिशता बढ़कर 92 प्रतिशत पहुंच गई है केवल आठ प्रतिशत लम्बित है तथा लोग स्वयं आगे आकर अपने बकाया बिल भर रहें हैं। जिले में केवल 44 करोड़ रुपए के ही बिल लम्बित हैं। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से जानना चाहा कि क्या बिजली आपूर्ति का समय दो घंटे बढ़ाया गया है इस पर अधिकारियों ने कहा कि हां सरकार से आदेश प्राप्त हुए और समय बढ़ा दिया गया है।  बैठक में भाजपा अध्यक्ष श्री सुभाष बराला, मुख्यमंत्री के ओएसडी श्री जवाहर यादव, पूर्व मंत्री श्री गणेशी लाल, वरिष्ठ भाजपा नेता श्री जगदीश चोपड़ा, मण्डलायुक्त श्री डीपीएस नागल, आई जी रेंज  अनिल कुमार, पुलिस अधीक्षक मितेश जैन के अलावा जिला के सभी अधिकारीगण उपस्थित थे।

No comments