संत गुरमीत राम रहीम के खिलाफ मामला दर्ज करेगी सीबीआई

सिरसा(प्रैसवार्ता)। सीबीआई सिरसा स्थित डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के खिलाफ उनके आश्रम में समर्थकों की कथित रूप से जबरन नसबंदी कराने के मामले में सोमवार को एक मामला दर्ज कर सकती है। सीबीआई के सूत्रों ने कहा कि प्राथमिकी शनिवार को दर्ज की जानी थी लेकिन कुछ तकनीकी वजहों से नहीं की जा सकी और सोमवार को दर्ज की जा सकती है। सूत्रों ने कहा कि एजेंसी का यह कदम पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के आदेश के मद्देनजर उठाया जा रहा है जिसमें एजेंसी को डेरा प्रमुख के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया था। डेरा प्रमुख राम रहीम की पहली फिल्म मैसेंजर ऑफ गॉड रिलीज होने वाली है। डेरा के एक पूर्व समर्थक हंसराज चौहान ने उच्च न्यायालय में आरोप लगाया था कि गुरमीत राम रहीम सिंह के आदेश पर उसके समेत डेरा के 400 संतों की जबरन नसंबदी की गयी। चौहान ने सीबीआई जांच की मांग करते हुए पीठ के समक्ष दावा किया कि डेरा प्रमुख अपने अस्पताल में कार्यरत डॉक्टरों के माध्यम से डेरा समर्थकों की नसबंदी कराते हैं। चौहान ने अपनी याचिका में कहा था कि उन्हें कहा गया कि नसबंदी कराने वाले डेरा प्रमुख के जरिये भगवान से मिल सकेंगे। उच्च न्यायालय के न्यायमूर्ति के कन्नन ने घटना के मामले में सीबीआई जांच की मांग वाली याचिका पर आदेश दिया. याचिका पर संज्ञान लेते हुए उच्च न्यायालय ने पहले याचिकाकर्ता चौहान की मेडिकल जांच किसी सरकारी मल्टी-स्पेशलिटी अस्पताल में कराने का आदेश दिया था जिसमें पता चला कि उसकी नसबंदी की गयी थी। डेरा प्रमुख अपनी आने वाली फिल्म को लेकर पहले ही विवाद में हैं जिस पर अकाल तख्त समेत सिख संगठनों ने प्रतिबंध लगाने की मांग की है। गुरमीत राम रहीम पर एक पत्रकार की हत्या और कुछ महिला समर्थकों के यौन उत्पीडऩ के भी मामले चल रहे हैं।

No comments