दिल्ली का दिल जीतने के लिए भाजपा, आप व कांग्रेस में चुनावी टक्कर

दिल्ली(प्रैसवार्ता)। दिल्ली विधानसभा का चुनाव जीतने के लिए भाजपा, आम आदमी पार्टी व कांग्रेस ने पूरा जोर लगा दिया है। भाजपा और कांग्रेस के स्टार प्रचारक चुनावी प्रचार में है, वहीं आम आदमी पार्टी स्वयं में ही प्रचारक कही जा सकती है। करीब एक करोड़ 13 लाख मतदाताओं वाली दिल्ली विधानसभा में मतदान 7 फरवरी को होना है, जबकि चुनाव परिणाम 10 फरवरी को आएंगे। 70 विधानसभा वाली दिल्ली में 693 उम्मीदवार अपना चुनावी भाग्य अजमा रहे है। भाजपा ने किरण बेदी को सीएम पद की दावेदार घोषित किया है, तो आम आदमी पार्टी की ओर से अरविन्द केजरीवाल व कांग्रेस की ओर से अजय माकन को मुख्यमंत्री पद के लिए दिल्ली के जागरूक मतदाताओं की अदालत में उतारा है। भाजपा की किरण बेदी कृष्णा नगर क्षेत्र से आप के एस के बग्गा व कांग्रेस के बंसीलाल, आप सुप्रीमों अरविन्द केजरीवाल, भाजपा की नुपुर शर्मा तथा कांग्रेस की किरण वालिया नई दिल्ली क्षेत्र तथा कांग्रेस के अजय माकन सदर बाजार क्षेत्र से आप के सोमदत्त तथा भाजपा के प्रवीण जैन के बीच चुनाव टक्कर है। वहीं जनकपुरी क्षेत्र से भाजपा के जगदीश मुखी, आप ने राजेश ऋषि को अपना उम्मीदवार बनाया है, तो कांग्रेस ने मुखी के दामाद सुरेश कुमार को चुनावी दंगल में उतारकर चुनाव दिलचस्प बना दिया है। पटेल नगर क्षेत्र से कांग्रेस से भाजपाई बनी पूर्व मंत्री कृष्णा तीर्थ भाजपा टिकट पर, राजेश लिलोलिया कांग्रेस तथा हजारी लाल चौहान आप टिकट पर, आप शासन में मंत्री रहे सोमनाथ भारती मालवीय नगर क्षेत्र से शीला शासन में मंत्री रहे योगानंद शास्त्री तथा भाजपा की नंदिनी शर्मा, मंगोलपुरी से आप शासन में मंत्री रह चुकी पार्टी की फायर ब्रांड राखी बिडला कांंग्रेस के दिग्गज राज कुमार चौहान तथा भाजपा के सुरजीत सिंह, चांदनी चौक क्षेत्र से कांग्रेस के प्रहलाद साहनी, आप की अलका लंबा तथा भाजपा ने सुमन गुप्ता पर चुनावी दाव खेला है। इसी प्रकार ग्रेटर कैलाश क्षेत्र से कांग्रेस ने राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की बेटी शर्मिला, आप ने पूर्व परिवहन मंत्री सौरभ भारद्वाज तथा भाजपा ने राकेश मुलिया, लक्ष्मी नगर से कांग्रेसी शासन में स्वास्थय व वित्त मंत्री रहे अशोक वालिया, भाजपा के बीबी त्यागी और आप के नितिन त्यागी, बल्लीमारान क्षेत्र से कांग्रेस के युसुफ हारून, भाजपा के श्याम मोरवाल तथा आप ने इमरान हुसैन, दिल्ली कैंट क्षेत्र से आप ने सुरेंद्र सिंह कमांडों, कांग्रेस ने संदीप तंवर और भाजपा ने करण सिंह तंवर, द्वारका क्षेत्र से कांग्रेस के महाबल मिश्रा पूर्व सांसद, भाजपा के प्रदुमन कुमार तथा आप के आदर्श शास्त्री, मटिया महल क्षेत्र से कांग्रेस टिकट पर शोएब इकबाल, भाजपा के शकील अजुंम तथा आप के आसिम अहमद खान तथा पटपडगंज क्षेत्र से आप के मनीष सिसौदिया, आप से भाजपाई गए विनोद बिन्नी तथा कांग्रेस के अनिल कुमार एक दूसरे को चुनावी चुनौती दे रहे है। इस चुनाव में दिल्ली के तीनों नगर निगमों में एक मेयर सहित 11 पार्षद विधानसभा में दस्तक देने के लिए एडी-चोटी का जोर लगा रहे है, जिनमें से मेयर योगेंद्र चंदौलिया(भाजपा) करोल बाग क्षेत्र, भाजपाई पार्षद सरिता चौधरी महरौली, आजाद सिंह मुंडका, रेखा गुप्ता शालीमार बाग, बीबी त्यागी लक्ष्मी नागर, संजय जैन सीलमपुर तथा रजनी अब्बी तिमारपुर शामिल है। दिल्ली विधानसभा के इस चुनाव में 13 सीटों पर अपने ही बगावत करके चुनावी टक्कर दे रहे है। भाजपा ने आप के बागी विनोद कुमार बिन्नी, एम एस पीर तथा अशोक कुमार पर चुनावी दांव खेला है। बिन्नी पडपडगंज से आप प्रत्याशी मनीष सिसोदिया, एमएस पीर जंगपुरा से तथा अशोक कुमार ने अंबेडकर क्षेत्र से चुनावी मैदान में उतरे है, जबकि वर्ष 1993 विधानसभा के गठन उपरांत लगातार विजयी परचम लहराने वाले जगदीश मुखी जनकपुरी, साहब सिंह चौहान घौडां, कांग्रेस के मतीन अहमद सीलमपुर, हारून युसुफ बल्लीमारान, जद (यू) में शोएब इकबाल मटिया महल से 6वीं बार विजयी परचम लहराने के लिए एडी चोटी का जोर लगाए हुए है। इनैलो ने बिजवासन से प्रदीप गोदारा व नजफगढ़ से भरत सिंह को चुनावी मैदान में उतारा है। इस विधानसभा में आप ने भाजपा के 112 सांसदों, कई मुख्यमंत्री, मंत्रियों, भाजपाई दिग्गजों व संघ के कार्यकर्ताओं को चुनावी समर में झोंक दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसभाएं तेजी पकड रही है, तो भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दिल्ली में ही डेरा डाल रखा है। कांग्रेस की चुनावी प्रचार कमान में हरियाणवी दिग्गजों का पलड़ा भारी है, क्योंकि दिल्ली के बाहरी क्षेत्र हरियाणा राज्य से संबंधित है। शिरोमणी अकाली दल राजौरी गार्डन, हरीनगर कालका तथा शाहदरा क्षेत्र से भाजपा के तालमेल के साथ अपने उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा है।

No comments