आमरण अनशन पर बैठी संजू बाला की तबियत बिगड़ी, प्रशासन को कोई परवाह नहीं...

सिरसा(प्रैसवार्ता)। बार एसोसिएशन से जुड़े वकीलों की गिरफ्तारी को लेकर लघुसचिवालय के समक्ष आमरण अनशन पर बैठी दलित महिला अधिवक्ता संजू बाला का अनशन आज, वीरवार को तीसरे दिन में प्रवेश कर गया है और पुलिस ने अभी तक वकीलों को गिरफ्तार नहीं किया है। अनशन पर बैठने के कारण महिला अधिवक्ता संजू बाला की तबियत भी बिगडऩी शुरू हो गई है। संजू बाला का कहना है कि अभी तक दोषी वकीलों को गिरफ्तार नहीं किया गया है, क्योंकि उन्हें मुख्यमंत्री हरियाणा के राजनीतिक  सलाहकार जगदीश चौपड़ा का सरंक्षण प्राप्त है। जब तक इन वकीलों को गिरफ्तार नहीं किया जाता, तब तक अनशन जारी रहेगा। अगर इन अनशन के दौरान उन्हें कुछ भी हो जाता है, तो उसके जिम्मेवार जगदीश चौपड़ा व दोषी वकील होंगे। इसी बीच हरियाणा मंडी मजदूर यूनियन शाखा ने संजू बाला को समर्थन दे दिया है। यूनियन के प्रैस प्रवक्ता का कहना है कि अगर संजू बाला को न्याय न मिला और दोषी वकीलों को गिरफ्तार न किया गया, तो यूनियन आंदोलन करने पर मजबूर हो जाएगी। आमरण अनशन पर बैैठी संजू बाला के संगीन मामले को लेकर बनाई गई 11 सदस्यीय कमेटी राजकुमार चंदा, राकेश कोचर, प्रधान सदानंद, विनोद हिटलर, शंकर ठेकेदार, ओम प्रकाश, आर के खन्ना, जितेंद्र सोढी, जय किशोर, शीलू व अशोक का कहना है कि संजू बाला की तबियत बिगड़ती जा रही है और प्रशासन की ओर से सरकारी डॉक्टर मुहैया करवाया जाना चाहिए। 

No comments