24 घंटे में पुलिस ने सुलझाई प्रोपर्टी डीलर की मर्डर की गुत्थी, चारो आरोपी गिरफ्तार

सिरसा(प्रैसवार्ता)। शहर थाना सिरसा व सीआईए पुलिस की टीमों ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रतीक्षा गोदारा के नेतृत्व में महत्वपूर्ण सुराग जुटाते हुए प्रोपर्टी डीलर का अपहरण कर फिरौती मांगने व उसकी हत्या करने की घटना की गुत्थी को 24 घंटे में सुलझा लिया है। पुलिस ने इस संबंध में घटना के चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। प्रैसवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार पकड़े गए आरोपियों की पहचान देवीलाल पुत्र रिछपाल, रामकिशन पुत्र रामेश्वर निवासी गांव गिंदड़ा, संदीप पुत्र जीत सिंह व मुकेश उर्फ मोनू पुत्र ओमप्रकाश निवासी सिकंदरपुर के रूप में हुई है। चारों आरोपियों को अदालत में पेशकर रिमांड हासिल किया जाएगा। रिमांड अवधि के दौरान अपहरण व हत्या में प्रयुक्त गाड़ी व हथियार बरामद किए जाएंगे। बीती 10 जून को शुभम पुत्र नोपाराम निवासी कंगनपुर रोड ने शहर पुलिस को शिकायत दर्ज करवाई की उसके पिता नोपाराम का अपहरण कर लिया है और अपहरणकत्र्ताओं द्वारा 5 लाख रुपये की फिरौती मांगी जा रही है। इस घटना की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक अश्विन शैणवी ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रतीक्षा गोदारा के नेतृत्व में सीआईए सिरसा व शहर थाना पुलिस की विभिन्न टीमों का गठन कर आरोपियों की तलाश शुरू करने के निर्देश दिए। पुलिस टीमों ने महत्वपूर्ण सुराग जुटाते हुए घटना के चार आरोपियों को काबू कर लिया। पूछताछ में पकड़े गए आरोपियों ने बताया कि प्रोपर्टी डीलर नोपाराम ने देवीलाल को पहचान लिया, जोकि उसका पुराना जानकार था। जिसके भय से उन्होंने नोपाराम की गला घोंटकर हत्या कर दी और उसका शव एक नाले के पास फेंक दिया। पुलिस ने रानियां थाना क्षेत्र के गांव धोत्तड़ व खारियां के बीच बने नाले के पास से नोपाराम का शव बरामद कर उसका शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है। इस मामले में मृतक के बेटे शुभम की शिकायत पर अपहरण कर फिरौती मांगने तथा हत्या करने का अभियोग दर्ज किया है।

No comments