थाना शहर के बाहर सिरसा के पत्रकार देंगे धरना - The Pressvarta Trust

Breaking

Tuesday, June 30, 2015

थाना शहर के बाहर सिरसा के पत्रकार देंगे धरना

सिरसा(प्रैसवार्ता)। बरनाला रोड़ स्थित गली ब्रह्माकुमारीज आश्रम वाली के फर्जी निर्माण मामले में एफआईआर दर्ज होने के बावजूद कोई ठोस कार्रवाई न होने का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है और मजबूरन इस मामले में कार्रवाई करवाने के लिए लोकतंत्र के चौथे स्तंभ मीडिया को सांकेतिक धरना देना पड़ रहा है।  पत्रकार इंद्रजीत अधिकारी द्वारा पुलिस अधीक्षक सिरसा को सौंपी गई एक शिकायत में कहा गया है कि  नगर परिषद सिरसा में वर्ष 2009-10 से घपले घोटाले हो रहे है, जिसकी जांच स्टेट विजीलैंस कर चुका है और भारी धांधली सिद्ध हो चुकी है।  स्टेट विजीलैंस ने तत्कालीन जेई मनीष कुमार, जगदीश, अशोक, एमई फूलचंद व रमेश कुमार तथा ईओ नेकी राम के खिलाफ धारा 420/467/468/471/120बी के तहत मामला दर्ज करवाने की अनुशंसा की गई। बरनाला रोड़ स्थित गली ब्रह्माकुमारीज आश्रम वाली के फर्जी निर्माण मामले में शहर सिरसा पुलिस द्वारा 18 जून 2015 को एफआईआर संख्या 461 दर्ज की गई थी। लेकिन इस मामले में कोई ठोस कार्रवाई नहीं की जा रही। अगर गुरूवार 2 जुलाई तक इस मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होती है, तो वे जिलाभर के पत्रकारों के साथ तीन जुलाई शुक्रवार को शहर थाना के बाहर सांकेतिक धरना देंगे। उसके बाद भी आरोपी गिरफ्तार नहीं हुए तो भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन तेज कर दिया जाएगा। पत्रकार इंद्रजीत अधिकारी ने शिकायत की प्रति मुख्यमंत्री हरियाणा, पुलिस महानिदेशक हरियाणा, पुलिस महानिरीक्षक हिसार रेंज, जिला उपायुक्त सिरसा, इलैक्ट्रॉनिक व प्रिंट मीडिया को भी भेजी है।

मामला दर्ज हुआ है, तो गिरफ्तारी भी होनी चाहिए:  कानूनी विशेषज्ञ

इस संबंध में जब कुछ कानूनी विशेषज्ञों से बातचीत की गई, तो उन्होंने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि अगर पुलिस मामला दर्ज करती है, तो गिरफ्तारी भी होनी चाहिए। जो धाराएं लगाई गई है, अगर वह धाराएं किसी आम नागरिक पर लगाई जाती, तो उसकी गिरफ्तारी तुरंत हो जाती। पुलिस को कोई ठोस कदम न उठाना, गिरफ्तारी न करना कई सवाल खड़े करता है।

No comments:

Post a Comment

Pages