सिरसा में एक ऐसा पुल: जिस पर नेताओं की ''नो एंट्री"

सिरसा(प्रैसवार्ता)। जिला के ग्राम पनिहारी और आसपास के नौ ग्रामों के ग्रामीणों ने मुख्यमंंत्री तक गुहार लगाने के बावजूद भी कोई सुनवाई न होने पर संकल्प लेकर घग्गर नदी पर 214 फीट लंबा और 16 फीट चौड़ा पुल मिलजुल कर अपने खर्च से बना लिया है, तो फैसला लिया है कि किसी भी नेता को इससे जाने नहीं दिया जाएगा, यानि पुल पर नेताओं की ''नो एंट्री"। प्रैसवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार पुल बनाने की मांग बीस वर्ष से अटकी हुई थी, जिसके लिए मुख्यमंत्री तक गुहार लगाई गई। इन ग्रामों के लोगों के करीब पांच हजार ग्रामीणों ने एक करोड़ रूपए जुटाकर एक कंपनी को ठेका दिया, जो पूरा होने वाला है। इन ग्रामों के वासियों ने फैसला लिया कि चुनावों का बहिष्कार होगा और  किसी भी नेता को पुल पर से गुजरने नहीं दिया जाएगा। पुल निर्माण समिति के सचिव मेजर सिंह के अनुसार पुल के बनने से उन्हें दस किलोमीटर की राहत मिली है, जिसके लिए उनमें स्कूली बच्चों को दस किलोमीटर का चक्कर काटना पड़ता था।

No comments