संघर्ष के समय कांटो पर चलकर कार्य करने वालों पत्रकारों को मैं सेल्यूट करता हूं: कृष्ण कुमार बेदी

सिरसा(प्रैसवार्ता)। हरियाणा के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री  कृष्ण कुमार बेदी ने स्थानीय मीडिया सेंटर में प्रैस से मिलिए कार्यक्रम में शामिल हुए और पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि वे आज आपके बीच में अपसी भाईचारे से मिलने के लिए आएं हैं न की मंत्री की हैसियत से। 
श्री बेदी ने कहा कि मीडिया को लोकतंत्र का चौथा स्तंभ मानते हैं लेकिन लोकतंत्र ने उन्हें दिया क्या है। उन्होंने कहा कि पत्रकारों को विभिन्न कार्यक्रमों की कवरेज करने के काम में क्या-क्या मुसिबतों से गुजरना पड़ता है तथा वे कितना संघर्ष करते हैं इस बारे वे भली भांति जानते हैं। उन्होंने कहा कि संघर्ष के समय कांटो पर चलकर कार्य करने वालों को मैं सेल्यूट करता हूं। उन्होंने कहा कि राजनेताओं और मीडिया का आपस में चोली दामन का साथ होता है। उन्होंने कहा कि पहले नेता को भी जमीन से संघर्ष करना पड़ता है तथा लंबे समय के बाद वह अपनी मंजिल तक पहुंच जाए तो बहुत अच्छी बात होती है। इसके अतिरिक्त पत्रकारगण लंबे सालों से संघर्ष करने के बाद वहीं के वहीं रहते हैं। पत्रकार पर लोगों की बहुत से आशाएं व आकांक्षाएं होती हैं। उन्होंने कहा कि उनका भी पिछले कई महीने से सिरसा आना जाना रहा है तथा उन्हें हर महीने यहां जिला कष्ट निवारण समिति के चेयरमैन होने के नाते आना पड़ता है और वे ये चीजें नोट करते हैं। उन्होंने कहा कि कभी भी सिरसा जिला की मीडिया नकारात्मक सोच से नहीं चलती, यहां पत्रकारों की केवल सकारात्मक है। श्री बेदी ने पत्रकार राजेंद्र ढ़ाबां द्वारा रखे गए मांगपत्र को पढ़ते हुए मीडिया सेंटर के साथ खाली पड़े भवन को मीडिया सेंटर में समायोजित करने की मांग को प्रशासन द्वारा हर सम्भव पूरा करवाने का आश्वासन दिया। श्री बेदी ने पत्रकारों द्वारा रखी गई मजीठिया आयोग की रिपोर्ट को लागू करने के बारे में आश्वासन दिया है कि वे सीएम मनोरलाल खट्टर से मजीठिया आयोग की रिपोर्ट के सिलसिले में बात करेंगे। उन्होंने कहा कि पत्रकारों के पास आय के बहुत कम साधन होते हैं। उन्होंने कहा कि मैंने भी गांव से उठकर काम किया है। पहले मंडल अध्यक्ष, फिर युवा मोर्चा और उसके बाद अनुसूचित जाति सैल का प्रदेशाध्यक्ष रहा हूं। उन्होंने कहा कि अगली बार जब आऊंगा तो आपके पास यह भवन होगा। राज्यमंत्री कृष्ण कुमार बेदी ने मीडिया सेंटर को अपने कोष से 2.51 लाख रुपये देने की घोषणा की। उन्होंने इस अवसर पर पौधारोपण भी किया।
उन्होंने कहा कि वे तीन बार विधानसभा का चुनाव लड़ चुके हैं। किसी भी टाइम उन्होंने पार्टी से टिकट नहीं मांगी। पार्टी के नेताओं ने सालों पहले उनकी टिकट की घोषणा की थी। इस बार भी उन्होंने कहा कि रामबिलास शर्मा अध्यक्ष थे, डेढ़ साल पहले जींद में उनकी टिकट की घोषणा करके आए थे। उन्होंने पत्रकारों को कहा कि मेरी जब भी जरूरत पड़े आपके लिए आधी रात को ही हाजिर हूं। जाते वक्त फिर बोले कि आपको एक बार यह भवन दिलवा दंू, उसके बाद जितना खर्चा होगा पूरा मैं करूंगा।
उनके साथ जिलाध्यक्ष अमीरचंद मेहता, चंद्रप्रकाश बोस्ती, मक्खन लाल ख्योंवाली, प्रशासनिक अधिकारी के तौर पर एसडीएम डबवाली सुरेश कस्वां व डीपीआरओ दलीप सिंह माचरा ने भी मीडियों को संबोधित किया। समापन अवसर पर मीडिया सेंटर की ओर से चीफ गेस्ट कृष्ण कुमार बेदी को स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर पत्रकार बलजीत सिंह, भूपेंद्र पन्नीवालिया, डॉ. गुलाब सिहाग, गुरजीत सिंह मान, अमर सिंह ज्याणी, प्रभूदयाल, नवदीप सेतिया, अंशुल छत्रपति, प्रदीप सचदेवा, नरेश जैन, सतनाम सिंह, नकुल जसूजा, सुरेंद्र सांवत, विजय जसूजा, महेंद्र सिंह मेहरा, राम महेश्वरी, पंकज धिंगड़ा, नीरज शर्मा, महेश शर्मा, कमल सिंगला, मनमोहित ग्रोवर सहित शहर के सभी पत्रकार मौजूद थे।

No comments