महिला थाना सिरसा की पहली FIR पर लगा सवालिया निशान, पीडिता ने दी आत्मदाह की धमकी

सिरसा(प्रैसवार्ता)। महिला थाना का उद्घाटन और पहली शिकायत पुलिस वाले के खिलाफ। समस्याएं तो थी। मानसा की एक महिला के साथ कथित छेड़छाड़ के मामले में महिला पुलिस थाने ने अपनी पहली कार्रवाई शुरू करते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर लिया, लेकिन रविवार को आरोपी को जमानत मिल गई। प्रैसवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार 29 अगस्त को महिला पुलिस थाना प्रभारी सीमा ने मानसा निवासी महिला रितू की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए रोड़ी थाना के सब इंस्पैक्टर महा सिंह को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। रविवार को आरोपी महा सिंह को ड्यूटी मैजिस्ट्रेट सुमित तुर्किया के समक्ष पेश किया गया, जहां से आरोपी को जमानत मिल गई।

एसपी ने किया सस्पेंड
                          भले ही कोर्ट से आरोपी सब इंस्पेक्टर को साथ के साथ जमानत मिल गई हो, मगर एसपी अश्विन शैणवी ने तुरंत कार्रवाई करते हुए सब इंस्पेक्टर महासिंह को सस्पेंड कर दिया है। उन्होंने उसकी विभागीय जांच के भी आदेश दिए हैं। यहां बता दें कि गांव फत्ता की महिला ने सब इंस्पेक्टर महासिंह पर छेड़खानी करने व अश्लील बातें करने का आरोप लगाया था। इस मामले में महिला पुलिस थाना में शिकायत हुई तो केस दर्ज करके आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। जिसमें उसे कोर्ट ने साथ की साथ जमानत दे दी है। इस कारण पीड़ित महिला ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगाए हैं।

न्याय नहीं मिला तो कर लूंगी आत्महत्या
                पीड़ित महिला के अनुसार पुलिस ने केवल अश्लील शब्दों का इस्तेमाल करने की भादसां धारा 354 डी के तहत केस दर्ज किया है। जो गलत  है। क्योंकि इसमें आरोपी को जमानत मिल जाती है। जबकि छेड़खानी की धारा 354 के तहत मामला दर्ज होना चाहिए था। पुलिस पर सवालिया निशान लगाने वाली पीड़िता ने धमकी दी है कि अगर उसे न्याय नहीं मिला तो वह आत्महत्या कर लेगी। उसने एसपी से मिलकर शिकायत करने की बात कही है।

No comments