पावन अवतार माह: संत गुरमीत राम रहीम के दर्शनों व रोमांचक खेल मुकाबले देख दर्शक हुए भावविभोर

सिरसा(प्रैसवार्ता)। पूज्य गुरु संत गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां के पावन अवतार माह के उपलक्ष्य में शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैल्फेयर फोर्स विंग द्वारा मनाए जा रहे सेवादार गर्व दिवस के अवसर पर आयोजित नौंवी राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता वीरवार सांय धूमधाम से संपन्न हुई। इससे पूर्व दिनभर विभिन्न प्रतियोगिताओं के फाईनल मुकाबले हुए, जिनमें प्रतिभागी टीमों ने एक दूसरे से आगे निकलने  में खूब पसीना बहाया। पूज्य गुरुजी के पावन सानिध्य ने खेल मुकाबलों के उत्साह को कई गुणा बढ़ा दिया। खेल परिसर में एक के बाद एक सात विभिन्न खेलों के फाइनल मैच हुए तथा हर कोई
खेल के रंग में रंगा नजर आया। पूज्य गुरुजी के पावन दर्शन व रोमांचक खेल मुकाबलों को देखकर दर्शक भावविभोर नजर आए । सभी प्रतियोगिताओं के परिणामों के आधार पर पंजाब राज्य के खिलाड़ी प्रथम स्थान पर रहे। दूसर स्थान के लिए हरियाणा व राजस्थान के खिलाड़ी रहे।  यूपी  तीसर स्थान पर रहा। प्रैसवार्ता को मिली जानकारी अनुसार सेंट एसएमजी खेल परिसर में आयोजित राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता में वीरवार सुबह से फाईनल मुकाबले आरंभ हो गए। एक के बाद एक प्रतियोगिताओं का आयोजन हुआ, जिनका खिलाडिय़ों व दर्शकों ने खूब आनंद उठाया। दर्शकों का उत्साह उस समय और बढ़ गया, जब पूज्य गुरुजी भी खेल परिसर में पधार। पूज्य गुरुजी ने सभी खेल मुकाबलों का अवलोकन किया तथा बीच बीच में खिलाडिय़ों को खेल संबंधित टिप्स भी दिए। फाईनल मुकाबला जीतने के बाद विजेता टीमों के खिलाडिय़ों ने पूज्य गुरुजी का आशीर्वाद लिया।  वीरवार को सर्वप्रथम गुलस्टिक का फाइनल मैच हुआ, जो खूब रोमांचक रहा तथा अंत तक उत्तरप्रदेश व हरियाणा की टीमें हार जीत के लिए एक दूसर को टक्कर देती नजर आई। 85 मिनट की समयावधि वाले इस मैच में शुरू से लेकर अंत तक रोमांच बरकरार रहा। दूसरा मैच पिट्ठू का हुआ, जिसमें राजस्थान व पंजाब की टीमों में कड़ा मुकाबला हुआ। 30 मिनट के इस परंपरागत खेल ने सभी को बांधे रखा। तीसरा मुकाबला राजस्थान के परंपरागत खेल  हरदड़ा का हुआ, जिसमें पंजाब व राजस्थान का मुकाबला हुआ। 25 मिनट तक चले इस मैच में बेशक बाजी राजस्थान ने मारी लेकिन पंजाब ने भी कड़ा संघर्ष किया। चौथे मुकाबले में दर्शकों ने जेवलिन थ्रो यानि भाला फैंक प्रतियोगिता का फाईनल देखा, जिसमें चयनित 5 खिलाडिय़ों में भी शानदार मुकाबला हुआ तथा बाजी पंजाब के इकबाल के नाम रही। पांचवा मुकाबला महिला वर्ग में हैंडबॉल में पंजाब व हरियाणा के बीच मुकाबला हुआ, जिसमें हरियाणा की लड़कियां पूरी तरह हावी रही। छठा मुकाबला लड़कियों के बीच बांदर किला खेल में हुआ। घेर में से चप्पल निकालने व बचाने के प्रयास के इस रोमांचक खेल में हरियाणा व पंजाब के बीच मुकाबला हुआ, जिसमें पंजाब की खिलाड़ी केवल एक अंक के अंतर से विजयी रही। राष्ट्रीय स्तरीय प्रतियोगिता का सातवां मैच नेशनल स्टाइल कबड्डी का था, जिसमें राजस्थान व पंजाब के खिलाडिय़ों ने खूब पसीना बहाया। करीब 45 मिनट तक चले इस मुकाबले में राजस्थान की टीम ने पंजाब को 8 अंकों से पछ़ाडकर 43 अंक लेकर विजयश्री अपने नाम कर ली। 

No comments