हरियाणा कांग्रेस: जिलाध्यक्षों की नियुुक्ति को लेकर हुड्डा-तंवर आमने-सामने: प्रवक्ता भी बदले जाएंगे

सिरसा(प्रैसवार्ता)। हरियाणा में कांग्रेसी कलह कम होने का नाम नहीं ले रहा, हालांकि कलह को दूर करने के लिए कांग्रेस हाईकमान ने सभी कांग्रेसी दिग्गजों को खुश करते हुए जम्बो कार्यकारिणी को स्वीकृति दी थी। कांग्रेस के नए संगठनात्मक ढांचे की घोषणा उपरांत प्रदेश में जिला व ब्लॉक अध्यक्ष के पदों की नियुक्ति को लेकर कवायद शुरू हो गई है। करीब डेढ़ वर्ष पूर्व कांग्रेस की कार्यकारिणी को भंग कर दिया गया था, मगर पार्टी प्रवक्ताओं को नहीं छोड़ा गया था। पिछली कांग्रेस वजारत में हुड्डा समर्थक प्रवक्ता तथा जिला व ब्लॉक अध्यक्षों का बोलबाला था, मगर बदलती राजनीतिक परिस्थितियों में प्रवक्ताओं तथा हुड्डा समर्थक जिला व ब्लॉक स्तरीय अध्यक्षों का बदला जाना लगभग तय माना जा रहा है। हुड्डा समर्थकों का आंकड़ा कम करने तथा अपने समर्थक आंकड़ा में वृद्धि के लिए तंवर काफी समय से सक्रिय है। हुड्डा की सोनियां दरबार तथा तंवर की राहुल दरबार में मजबूत पकड़ है। तंवर-हुड्डा की राजनीतिक आंख मिचौली के चलते जिलाध्यक्ष व ब्लॉक अध्यक्षों की नियुुक्ति में विलंब हो सकता है, जबकि प्रवक्ताओं के बदले जाने की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है और इसे किसी भी क्षण अमलीजामा पहनाया जा सकता है। प्रांतीय जम्बो कार्यकारिणी में तंवर समर्थकों की बढ़ती संख्या से संकेत मिलता है कि तंवर का कांग्रेस हाईकमान पर अच्छा प्रभाव है और तंवर का राजनीतिक कद बढ़ा है। देखना यह रहेगा कि हुड्डा अपने समर्थक प्रवक्ताओं, जिला तथा ब्लॉक अध्यक्षों को सुरक्षित रख पाएंगे या नहीं। दूसरी तरफ हुड्डा समर्थकों की जगह अपने समर्थकों को एडजस्ट करना तंवर के लिए एक चुुनौती से कम नहीं आंका जा सकता। 

No comments