रॉयल हवेली में स्वागत कार्यक्रम: छोड़ गया है कई अनबुझे सवाल

यहां हुआ था स्वागत समारोह
सिरसा(प्रैसवार्ता)। रविवार को भाजपा के अनुशासन समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो. गणेशी लाल परिवार की रॉयल हवेली में धनश्याम सर्राफ, कृष्ण बेदी (मंत्री हरियाणा), डॉ. कमल गुप्ता मुख्य संसदीय सचिव हरियाणा तथा मुख्यमंत्री हरियाणा के राजनीतिक सचिव दीपक मंगला का स्वागत अभिनंदन कार्यक्रम का आयोजन प्रो. लाल के बेटे मनीष सिंगला द्वारा किया गया, जिसमें स्थानीय भाजपाई दिग्गज व मुख्यमंत्री हरियाणा के राजनीतिक सलाहकार जगदीश चोपड़ा को न्यौता तक नहीं दिया गया। जिस कारण चौपड़ा समर्थकों ने दूरी बनाकर भाजपा के आपसी कलह को स्पष्ट कर दिया। इसी के साथ भाजपाई संगठन का भी विभाजन हो गया। चौपड़ा को राजनीतिक सलाहकार की कुर्सी व उसकी बढ़ती लोकप्रियता से ंचिंतित प्रो. लाल सकते में आ गए। शायद यहीं कारण रहा होगा कि प्रो. लाल ने अपनी शक्ति का अहसास करवाने के लिए रॉयल हवेली को चुना, जहां मंत्रीगणों की उपस्थिति दर्ज करवाने की योजना को अमलीजामा पहनाना शुरू कर दिया। रविवार का कार्यक्रम भी इसकी एक झलक कही जा सकती है। प्रो. लाल का राजनीतिक कद भाजपा के शीर्ष नेतृत्व में विशेष स्थान रखता है। अनुशासन का डंडा रखने वाले प्रो. लाल के बेटे मनीष सिंगला का रविवारीय कार्यक्रम जो संदेश छोड़ गया, उससे भाजपा के बढ़  रहे जनाधार को भारी धक्का लग सकता है। परिवारवाद का विरोध करने वाले भाजपाई दिग्गज प्रो. लाल और चौपड़ा के पुत्रों की राजनीति में खुली दस्तक कई प्रश्न चिन्ह पैदा कर रहे है। स्वागत कार्यक्रम द्वारा छोड़े गए अनबुझे प्रश्रों को लेकर कई प्रकार की चर्चाओं को जन्म दे दिया है।

No comments