सिरसा में हुआ हरसर टाईम्स का विमोचन

सिरसा(प्रैसवार्ता)। पत्रिका के मंच से भीड़ में शामिल ऐसे चेहरों को पटल पर लाया जाए, जो अब तक छिपे हुए है। ऐसे लोगों को कृतित्व, उनके जीवन, उपलब्धियों व उनके जीवन दर्शन को प्रकट किया जाए, ताकि लोग उनसे प्ररेणा ले सके। उक्त उद्गार ''हरसर टाईम्स" की मुख्य संपादिका नीतू शर्मा ने रविवार को युवक साहित्य सदन में पत्रिका के लोकापर्ण समारोह में व्यक्त किए। इस समारोह की अध्यक्षता भाजपा के जिला महामंत्री यतिन्द्र सिंह एडवोकेट ने की, जबकि एम्बीशन ग्रूप ऑफ इंस्टीट्यूट के चेयरमैन भीष्म मेहता ने मुख्यातिथि, प्रो. संजीव कालडा ने विशिष्ट अतिथि के रूप में शिरकत की। समारोह में सर्वप्रथम मां सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्जवलित किया गया। उसके उपरांत सांस्कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया, जिसमें प्रदीप रहेजा व मोमिता ने सदाबहार गीत, रविंद्र प्रीतम व प्रवीण शर्मा ने गजल प्रस्तुत की। समारोह में अपने विचारों को व्यक्त करते हुए मुख्यातिथि भीष्म मेहता ने कहा कि सिरसा में साहित्य प्रेमियों की कमी नहीं है, जो समय-समय पर अपने साहित्य द्वारा समाज व मानवता को एक नई दिशा देने का प्रयास करते रहते है। साहित्य के क्षेत्र में सिरसा की हरियाणा में विशेष पहचान है और इसमें हरसर टाईम्स ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाकर साहित्य प्रेमियों का आंकड़ा बढ़ाया है। उम्मीद की जाती है कि यह पत्रिका अपने उद्देश्य में सफल रहेगी, जिससे साहित्य जगत को भी फायदा पहुंचेगा। भाजपा जिला महामंत्री यतिन्द्र सिंह एडवोकेट ने अपने संबोधन में पत्रिका के संचालकों को अपनी शुभकामनाएं देते हुए कहा कि साहित्य भी समाज का एक आईना है, जो स्थाई रहता है। पत्रिका में राष्ट्र्र समाज व मानवता के हित में ज्यादा से ज्यादा लेख प्रकाशित किए जाए, जिनसे लोगों में जागरूकता आए और वह समाजिक बुराईयों का विरोध करें। उन्होंने कहा कि पत्रिका के शुभारंभ में ही जो सामग्री प्रकाशित की गई है, बहुत ही सराहनीय है, प्रशंसनीय है और इससे लोगों की सोच में बदलाव भी आएगा। इस दौरान प्रो. रूप देवगुण, डॉ. दर्शन सिंह, डॉ. जीडी चौधरी, डॉ. शील कौशिक व जेसीडी शिक्षण महाविद्यालय के रीडर डॉ. राजेंद्र कुमार ने पत्रिका की समीक्षा कर पत्रिका के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि पत्रिका द्वारा एक स्वस्थ समाज के निर्माण में निभाई जाने वाली भूूमिका अहम् है। इस पत्रिका में प्रत्येक वर्ग का ध्यान रखते हुए संबंधित आलेखों को उचित स्थान दिया गया है, जिससे समाज में एक नई पहल का शुभारंभ हुआ है। उन्होंने हरसर टाईम्स की टीम को पत्रिका में सामान्य कमियों से अवगत करवाते हुए आग्रह किया कि निकट भविष्य में इन कमियों को दूर कर पत्रिका पाठकों की उम्मीदों पर खरा उतरने के लिए प्रयास करें। संपादिका नीतू शर्मा ने मंच के उपस्थितजनों से आह्वान किया कि इस पत्रिका को ओर बेहतर बनाने हेतु अपने विचार दें और वार्षिक सदस्यता भी ग्रहण करें, ताकि पत्रिका आर्थिक रूप से मजबूत रहे।मंच संचालन प्रो. रूप देवगुण व हरीश सेठी ने संयुक्त रूप से किया, जबकि पत्रिका की मुख्य संपादिका नीतू शर्मा ने उपस्थितजनों का आभार व्यक्त किया।

No comments