शहर थाना के बाहर क्रमिक भूख हड़ताल 65वें दिन भी जारी - The Pressvarta Trust

Breaking

Saturday, September 12, 2015

शहर थाना के बाहर क्रमिक भूख हड़ताल 65वें दिन भी जारी

सिरसा(प्रैसवार्ता)। हरियाणा रोडवेज सिरसा डिपो के प्रधान मदन लाल खोथ ने कहा कि सरकार ने भ्रष्टाचार के मामले में ऐसा रुख अपनाया हुआ है जैसे भ्रष्टाचारी सरकार का अंग हों। उन्होंने कहा कि थाना शहर के समक्ष पिछले 65 दिनों से धरना जारी है लेकिन सरकार नगर परिषद के भ्रष्ट अधिकारियों को गिरफ्तार करने से बच रही है। जिन लोगों ने शहर की गलियों व सड़कों के निर्माण में जमकर धांधली की, लाखों का घोटाला किया। उन लोगों को गिरफ्तार करने में जानबूझकर विलंब किया जा रहा है। वे शनिवार को थाना शहर के समक्ष धरनारत लोगों को संबोधित कर रहे थे। शनिवार को पत्रकार इंद्रजीत अधिकारी, पत्रकार अंजनी गोयल, पत्रकार राजेश सतीजा, पत्रकार मुख्तयार सिंह व रोडवेज कर्मचारी नेता मदन लाल खोथ अनशन पर रहे। खोथ ने कहा कि स्टेट विजिलेंस ने गलियों के निर्माण में हुए घोटाले पर पहले पर्दा डालने के लिए चार साल बिता दिये। 31 मार्च 2015 को जो रिपोर्ट दी गई उस पर अमल नहीं किया। थाना शहर के समक्ष 10 जुलाई को जब क्रमिक अनशन व धरना दिया गया तब 19 दिन बाद 29 जुलाई को नगर परिषद के आधा दर्जन अधिकारियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। विजिलेंस द्वारा मामला दर्ज करने के डेढ़ माह बीतने के बाद भी नगर परिषद के उन भ्रष्ट अधिकारियों को गिरफ्तार नहीं किया गया है जिन्हें विजिलेंस अपनी जांच में लाखों रुपये के घोटाले का दोषी करार दे चुकी है। इस सरकार से बड़ी उम्मीद थी कि वह भ्रष्टाचार के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी लेकिन इस सरकार की हकीकत भी जनता के सामने आ चुकी है। पहले मामला दर्ज करने में आनाकानी की गई और अब भ्रष्ट अधिकारियों को गिरफ्तार करने में विलंब किया जा रहा है। धरनारत लोगों को अशोक पटवारी, गुरादिता कंबोज बाजेकां, पत्रकार रमेश गंभीर, संजूबाला एडवोकेट, पत्रकार देवेंद्र टक्कर, संजय कुमार, पत्रकार कमल सिंगला, अमरजीत सिंह सोहल ने भी संबोधित किया। 

No comments:

Post a Comment

Pages