शिक्षामंत्री बोले: पंचायती चुनावों में भाजपा सिम्बल पर नहीं लड़ेगी चुनाव

सिरसा(प्रैसवार्ता)। हरियाणा के शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा का बुधवार को विधानसभा में विपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला के आवास पर गणमान्य लोगों द्वारा जोरदार स्वागत किया। हरियाणा के राज्यपाल के कार्यक्रम रद्द होने के कारण शिक्षा मंत्री ने सिरसा में आयोजित कई कार्यक्रमों में भाग लिया। इस मौके पर प्रैसवार्ता को सम्बोधित किया। इसके बाद शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने चौ. देवीलाल यूनिवर्सिटी के फैकल्टी हाऊस में एक कार्यक्रम में शामिल हुए। चौ. देवीलाल यूनिवर्सिटी के मल्टीपर्पज हॉल में सैमिनार इंडिया थोट ऑन डिवेल्पमैंट का उद्घाटन किया और लोगो को सम्बोधित किया। शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा ने  कहा कि बुधवार को सिरसा में हरियाणा के राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी को आना था लेकिन उनका स्वास्थ्य खराब होने की वजह से उनके स्थान पर वे स्वयं आए हैं। पत्रकारों से रूबरू होते हुए उन्होंने कहा कि वन रैंक-वन पैंशन का मुद्दा पिछले 43 वर्षों से लटका हुआ था। भारत के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने कारगिल युद्ध के दौरान 14 हजार फीट की ऊंचाई पर झंडा लहराने उपरांत कहा था कि कारगिल के शहीदों व उनके आश्रित परिवारों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। कारगिल युद्ध के दौरान हरियाण के लगभग 110 सैनिक शहीद हुए थे। उन्होंने कहा कि 15 सितम्बर 2013 को रेवाड़ी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की रैली में उन्होंने घोषणा की थी कि सैनिकों का सम्मान किया जाएगा। इसी उद्देश्य से प्रधानमंत्री ने वन रैंक-वन पैंशन लागू करके सैनिकों को पूरा सम्मान दिया है। विधानसभा सत्र में विपक्ष के नेता अभय सिंह चौटाला ने दलगत राजनीति से उपर उठ कर प्रधानमंत्री के इस कार्य का समर्थन किया। पत्रकारों के रुबरु होते हुए राम बिलास शर्मा ने कहा कि हरियाणा में 2015 में होने वाले पंचायतीराज संस्थाओं के चुनावों में भारतीय जनता पार्टी सिम्बल पर चुनाव नहीं लड़ेगी। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी दलगत राजनीति से उपर उठ कर आम लोगों के विचारों में विश्वास रखती है। पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए शर्मा ने कहा कि आने वाले समय में हरियाणा में महाविद्यालय व विश्वविद्यालयों में छात्रसंघ के चुनाव भी कराए जाएंगे। उन्होंने  पत्रकारों द्वारा पूछा गया कि क्या भारतीय जनता पार्टी 1999 का इतिहास दोहराएगी तो  शर्मा ने कहा कि राजनीति सम्भावनाओं का खेल है, कांग्रेस के खिलाफ एक दल होकर भाजपा ने एक लम्बी लड़ाई लड़ी।  किसानों की नरमें की फसलों पर सफेद मक्खी के प्रकोप से हुए नुकसान के बारे में पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने 15 सितम्बर से 15 अक्तूबर तक विशेष गिरदावरी करवाने के निर्देश दिये हैं। गिरदावरी उपरांत किसानों के नुकसान की भरपाई करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि गत वर्ष गेहूं की फसल के नुकसान की भरपाई के लिए प्रदेश सरकार ने तुरन्त गिरदावरी करवा कर 1093 करोड़ रुपये का मुआवजा किसानों की वितरित किया गया था।

No comments