हुड्डा ही चला रहे है हरियाणा सरकार

सिरसा(प्रैसवार्ता)। पूर्व गृहमंत्री सुभाष बत्तरा की इस टिप्पणी पर कि हरियाणा की भाजपा सरकार को पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा और उसके समर्थक अधिकारी ही चला रहे है, की सत्यता को भांपते हुए राष्ट्रीय स्वयं सेेवक संघ ने हुड्डा समर्थक अधिकारी तथा कांग्रेसीजनों की कुंडली तैयार करनी शुरू कर दी है, जिससे घबराकर हुड्डा समर्थकों ने संघ के नेताओं से संपर्क बनाने शुरू कर दिए है। प्रैसवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार गुडग़ांव पुलिस अधिकारी विवाद प्रकरण तथा डीआईजी(विजीलेंस) के तबादले में हुड्डा की महत्वपूर्ण भूमिका देखी जा रही है। पुुलिस अधिकारी विर्क को हुड्डा का चहेता माना जाता है, जबकि डीआईजी विजीलेंस राजेंद्र कुमार हुड्डा के खासमखास एक ऐसे कांग्रेसी दिग्गज पर शिकंजा कसना चाहते थेे, जिसने बिजली निगम को करोड़ों रूपयों का चूना लगाया है। हुड्डा के करीबी रहे ऐसे अधिकारियों की कमी नहीं है, जो आज भी महत्वपूर्ण पदों पर कार्यरत है और वहीं सरकार चला रहे है। केंद्रीय मंत्री वीरेंद्र सिंह डूमरखां भी स्पष्ट कर चुके है कि अधिकारी ही सरकार का आईना होते है, जो सरकार की कोई परवाह नहीं करते, बल्कि अपने आकाओं की खुशी में व्यस्त रहते है। ऐेसे अधिकारी सरकार को ऐसा आईना दिखाते है, जिससे सरकार की स्थिति आगे कुंआ, पीछे खाई वाली हो रही हैे। प्रदेश में सरकार का जरूर बदलाव हुआ है, मगर सरकारी कार्यप्रणाली में कोई तबदीली नहीं आई। ज्यादातर अधिकारी भाजपाई शासन के अनुभवहीनता का लाभ उठाते हुए सरकार को कदम कदम पर नीचा दिखाने का प्रयास कर रहे है, क्योंकि हुड्डा ऐसा ही चाहते है। हुुड्डा समर्थक अधिकारियों की वजह से ही सरकार को शर्मिन्दगी उठानी पड़ रही है।

No comments