अशोक तंवर ने बसपा नेता का लिया "कैच"

सिरसा(प्रैसवार्ता)। लोकसभा तथा विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को दुगर्ति मैडल देकर कांग्रेस हाईकमान की आंखों की किरकिरी बन चुके पूर्व मुख्यमंत्री हरियाणा भूपेंद्र सिंह हुड्डा को निरंतर राजनीतिक झटके दे रहे मौजूदा पार्टी प्रधान अशोक तंवर ने बसपाई दिग्गज डॉ. कपूर को कैच करके, जहां कांग्रेस को मजबूती दी है, वहीं बसपा की चूलें हिला दी है। डॉ. सिंह ने अंबाला संसदीय क्षेत्र से बसपा प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़कर एक लाख से ज्यादा वोट हासिल किए थे। सरकारी सेेवा को त्याग कर राजनीतिक मैदान में उतरे कपूर सिंह की दलित समाज में मजबूत पकड़ है और वह डॉ. बी आर अम्बेदकर फ्रंट के प्रदेशाध्यक्ष पद पर रह चुके है। डॉ. सिंह के कांग्रेसी ध्वज थामने से हरियाणा कांग्रेस को भारी फायदा पहुंचेगा, ऐसी राजनीतिक पंडितों की सोच है। विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को बैकफुट पर लाने वाले अब कांग्रेस में घुटन महसूस करने लगे है, क्योंकि अशोक तंवर की कमान से न सिर्फ कांग्रेस का जनाधार बढ़ा है, बल्कि मायूस कांग्रेसियों को नई ऊर्जा मिली है। तंवर इससे पहले भी पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खासमखास पूर्व मंत्री राजकुुमार बाल्मीकि का कैच ले चुके है। बाल्मीकि ने अंबाला संसदीय क्षेत्र से बतौर कांग्रेस प्रत्याशी चुनाव लड़़कर करीब तीन लाख वोट हासिल किए थे और दलित समाज में विशेष पहचान रखते है। हरियाणा में अशोक तंवर की धुंआधार बैंटिंग से कांग्रेस की स्थिति काफी मजबूत होती दिखाई दे रही है, जबकि कांग्रेस को बैकफूट पर लाने वाले स्वयं बैकफूट पर चले गए है। तंवर की सक्रियता ने बैक फुटियों को बैक गेयर लगा दिए है और इसी के साथ उनके पुराने दिनों के स्वपनों पर ग्रहण लग गया है।

No comments