....जब उच्चाधिकारी ही उड़ाते हैं नियमों की धज्जियां - The Pressvarta Trust

Breaking

Thursday, November 19, 2015

....जब उच्चाधिकारी ही उड़ाते हैं नियमों की धज्जियां

रानिया(अमनदीप/प्रैसवार्ता)। रानियां में नवनियुक्त तहसीलदार को पदभार संभाले अभी एक सप्ताह ही हुआ है कि सरकारी नियमों को ताक पर रखते हुए अपनी निजी गाड़ी पर नीली बत्ती का उपयोग कर रहे हैं वैसे कानूनी के दायरे में बात की जाए तो किसी भी प्रशासनिक अधिकारी को अपने निजी वाहन पर नीली व लाल बत्ती लगाने का अधिकार नहीं होता है जब उच्चाधिकारी ही इन नियतों को दरकिनार करते हुए नियमों की धज्जियां उड़ाएंगे तो आम लोगों से नियमों की पालना करने की उम्मीद भला कैसे रखेगें। जब इस बारे में रानियां के तहसीलदार राजेंद्र कुमार से बात की तो उन्होंने कहा कि मैंने कोई नीली बत्ती अपनी गाड़ी पर नहीं लगाई हुई है, लेकिन जब उनसे यह कहा गया कि बाहर आपकी गाड़ी खड़ी हुई है, उस पर यह नीली बत्ती लगी हुई है, जिसके बकायदा वीडियो शॉर्ट भी किए गए है, तो वे मुकर गए और बोले बाहर खड़ी गाड़ी मेरी नहीं है। 
क्या कहते हैं उपमंडल अधिकारी
इस बारे में जब उपमंडल अधिकारी ऐलनाबाद धिरेंद्र खटखड़ा ने बताया कि उन्हें इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं है। अनभिज्ञतता जताते हुए उन्होंने कहा कि कोई भी प्रशासनिक अधिकारी अपने निजी वाहन पर नीली बत्ती का प्रयोग नहीं कर सकते। 
क्या कहते हैं थाना प्रभारी
इस बारे रानियां के थाना प्रभारी दलीप सिंह का कहना है कि बिना प्रमिशन के नीली बत्ती लगाया जाना कानूनन गल्त है अगर ऐसी बात है तो उस वाहन का चालान व उचित कार्रवाई की जाएगी। 

No comments:

Post a Comment

Pages