डेरा सच्चा सौदा के पूज्य संत गुरमीत राम रहीम नेे मनाई ईको फ्रैंडली दीपावली

सिरसा(प्रैसवार्ता)। भलाई कार्यों में अपनी एक विशेष पहचान बना चुका डेरा सच्चा सौदा के पूज्य संत गुरमीत राम रहीम इन्सां को करोड़ों लोग अपना आदर्श मानते है, क्योंकि वे न केवल भलाई कार्यों पर चलने की राह दिखाते है, बल्कि खुद भी इसी राह पर चल रहे है। दीपावली पर्व पर शहरभर की अनेको संस्थाओं ने ईको फ्रैंडली दीपावली मनाने का आह्वान किया, इसके बावजूद शहर भर में करोड़ों के पटाखे एक रात में फूंक दिए गए। शहरभर में चर्चा एक लंबे समय से थी कि मंदी आई हुई है, मगर दीपावली की रात को यह साबित हो गया कि मंदी तो कहीं नहीं है। ईको फ्रैंडली तो शहरभर में कुछेक ने ही मनाई। इसी बीच डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख संत गुरमीत राम रहीम ने शाह सतनाम जी धाम में दीए जलाकर ईको फ्रैंडली दीपावली मनाने का संंदेश दिया। पूज्य गुुरू संत गुरमीत राम रहीम की सोच है कि दीपावली पर अगर हम पटाखे जलाते हैं या लाईट जलाते हैं तो देश का नुकसान साथ ही हमारे स्वास्थ्य का भी नुकसान होता है। दीपावली दीयों के साथ, खुशी के साथ और खाने पीने की स्वस्थ चीजों के मनानी चाहिए। गुरू जी का यह भी मानना है कि दीपावली त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक त्यौहार है। इस दिन  बजाय दूसरों की बुराइयां देखने के अगर हम खुद की बुराइयों पर जीत हासिल कर लेंगे तो पूरी जिंदगी खुशी में बीता सकेंगे। इसी सोच को आज करोड़ों लोग सलाम कर रहे है।

No comments