नववर्ष से पूर्व ही भाजपाई दिग्गजों को मिलेगी ''लालबत्ती कार" - The Pressvarta Trust

Breaking

Thursday, December 3, 2015

नववर्ष से पूर्व ही भाजपाई दिग्गजों को मिलेगी ''लालबत्ती कार"

सिरसा(प्रैसवार्ता)। भाजपा के हरियाणा मामलों के प्रभारी अनिल जैन द्वारा प्रदेश में जिला वार पार्टी के पदाधिकारियों  व वर्करों की बैठकेें लेने, राजनीतिक स्थिति  से परिचित होने तथा मीडिया से सरकार को लेकर आ रही नकरात्मक खबरों से भाजपा सकते में आ गई है और अनिल जैन ने 5 दिसंबर को दिल्ली में पार्टी कोर ग्रुप की बैठक बुलाई है। पार्टी प्रभारी अनिल जैन को मिल रही रिपोर्ट को देखते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा आरएसएस के दिग्गजों से मुलाकात करके अपना पक्ष रखा है। मोदी और आरएसएस के दिग्गजों के सुझाव पर पार्टी के पदाधिकारियों व वर्करों से सीधा संपर्क कायम  करने के लिए खट्टर ने स्वयं मोर्चा संभालते हुए मैदान में उतरना शुरू कर दिया है। चखट्टर, जहां एक वर्ष की अपनी सरकार का गुणगान करेंगे, वहीं नाराज पदाधिकारियों व वर्करों की नब्ज टटोलने का प्रयास करेंगे। खट्टर  इसी मास किसी भी दिन प्रदेश में खाली पड़े बोर्ड, निगमों के चेयरमैनों की पिटारी खोल सकते है। सूत्रों के मुताबिक संगठनात्मक चुनाव संपन्न होते ही 'लालबत्ती' वाले कारें पिटारी से बाहर नजर आयेंगी। खट्टर सरकार की प्राथमिकता रहेगी, कि दो हजार से कम वोटों से पराजित होने वाले भाजपाईयों को एडजस्ट किया जाए, ताकि वह अपने अपने क्षेत्र में भाजपाई जनाधार को बढ़ा सके। ऐसे भाजपाईयों में सुनीता दुग्गल(रतिया), नैनपाल रावत (पृथला), कृष्णा गहलोत(राई), सुरेंद्र बरवाला(जींद) इत्यादि की लॉटरी खुलने की संभावना है, जबकि पलवल से कांग्रेस प्रत्याशी कर्ण सिंह दलाल से पराजित होने  वाले मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार तथा सफीदों से पराजित भाजपाई वंदना शर्मा को हरियाणा लोक सेवा आयोग का सदस्य बनाया जा चुका है। खट्टर को कार्यकर्ताओं से सीधा संपर्क का सुझाव, जहां भाजपाई शीर्ष नेतृत्व ने दिया है, वहीं मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार जगदीश चौपड़ा भी यहीं सोच रखते है। राज्य सरकार ने सरकारी प्रचार प्रसार के लिए मीडिया से तालमेल बनाने के लिए तेजतर्रार जगदीश चोपड़ा पर कार्ड खेलते हुए उन्हें जनसंपर्क विभाग हरियाणा की बागडोर सौंपी है, जो एक पत्रकार रहने के साथ अधिवक्ता भी है। सरकार फतेहाबाद से पूर्व विधायिका स्वतंत्र बाला चौधरी, ऐलनाबाद से भाजपा के पराजित प्रत्याशी पवन बैनीवाल, उचाना की विधायिका प्रेम लता इत्यादि को भी 'लालबत्तीÓ वाली कार थमा सकती है, ऐसी संभावनाएं नजर आ रही है।

No comments:

Post a Comment

Pages