शिक्षा माफिया: सविता चौधरी शिकंजे में: मामला दर्ज

डबवाली(प्रैसवार्ता)। शैक्षणिक डिग्री दिलवाने के नाम पर हजारों रूपए डकारने वाली विवादित सविता चौधरी के खिलाफ अदालत के आदेश पर थाना शहर पुलिस ने मामला दर्ज किया है। सविता नई अनाज मंडी परिसर में नैशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ऐजुकेशन के नाम से एक संस्थान चलाती है, जहां से किसी भी कोर्स या डिग्री का प्रबंध भारी भरकम राशी लेकर आसानी से करवाए जाने की व्यवस्था एक लंबे समय से उपलब्ध करवाई जा रही है। सविता पर आदमपुर पुलिस में भी मामला दर्ज हो चुका है तथा कई ऐसी ही शिकायतों की जांच चल रही है। 'प्रैसवार्ताÓ को मिली जानकारी के अनुसार  राजपुरा माजरा निवासी सोमनाथ ने अदालत में दस्तक देकर आरोप लगाया था कि नैशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एजुकेशन की संचालिका सविता चौधरी ने पशु चिकित्सा कोर्स का एक विज्ञापन दिया था, जिसे पढ़कर वह चौधरी से मिला, तो कोर्स करवा देगी, मगर इस पर 80 हजार रूपए खर्च आएगा। कोर्स उपरांत डिग्री के आधार पर हरियाणा पशु सहायक की नौकरी मिल जाएगी। सविता ने इनरोलमैंट नंबर डी ई1/2015/50192 पर पेपर तो दिलवाए, मगर प्रमाण पत्र नहीं दिया। बार-बार प्रमाण पत्र मांगने पर सविता ने कहा कि नियम बदल गए है, इसलिए पुन: पेपर देने होंगे। वर्ष 2011 में सविता उसे फिरोजपुर ले गई, जहां पेपर दिलवाए, मगर प्रमाण पत्र फिर भी नहीं दिया गया। सोमनाथ के दवाब के चलते प्रथम व द्वितीय सेमेस्टर की डीएमसी तो दे दी गई, मगर तीसरे व चौथे सेमेस्टर की डिग्री जारी नहीं की। बार-बार संपर्क करने पर संतोषजनक जवाब न मिलने पर सोमनाथ ने अदालत में गुहार लगाई, तो अदालत के आदेश पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

No comments