लोगों की सेहत से खिलवाड करने वालों की चार दिन बाद भी नहीं हुई गिरफ्तारी, बेखौफ चला रहे दुकानें

रानियां(संजय सैनी)। रानियां व संतनगर के क्षेत्र में फर्जी व बिना डिग्री के लोगों की सेहत से खिलवाड करने वाले लोगों के खिलाफ स्वास्थ्य विभाग की ओर से कार्रवाही करते हुए 17 फर्जी चिकित्सकों के खिलाफ थाना रानियां में मामला दर्ज करवाया था। विभाग के जिला उप स्वास्थ्य अधिकारी राजेश चौधरी, ड्रग निरीक्षक संदीप गहलान, नरेश सहारण सीनियर मैडिकल आफिसर ने छापेमारी कर डिग्रियों की जांच कर फर्जी चिकित्सकों के विरुद्ध कार्रवाही के लिए थाना रानियां में आईपीसी की धारा 420, 336 और इंडियन मैडिकल एक्ट 1956 के तहत 15(2) व 15(3) के तहत मामला दर्ज करवाया गया था। पुलिस की ओर से प्रथम सूचना रिपोर्ट 538, 539 में 4 नामजद व 13 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया लेकिन उस पर अभी तक आगे कोई कार्रवाही नहीं हो पाई। पुलिस की ओर छापेमारी के प्रयास तो किए गए लेकिन आरोपी अभी तक पुलिस की पकड से बाहर हैं। पुलिस की ओर से 13 अन्य के खिलाफ अभी जांच जारी है। यह जांच कब तक चलेगी और उसका क्या नतीजा होगा इस पर लोग अब भी संशय में हैं। स्वास्थ्य विभाग के द्वारा की जा रही कार्रवाही पर अनेक समाजिक स्ंास्थाओं लोक भलाई क्लब आदि व अनेक बुद्धिजीवी लोगों ने स्वागत किया और वहीं आगे भी अभियान जारी रखने के लिए स्वास्थ्य मंत्री व स्वास्थ्य विभाग को पत्र लिखने का निर्णय लिया है। वहीं पुलिस विभाग पर भी आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने व अन्य के विरुद्ध कडी कार्रवाही करने की मांग की है।  
बैखोफ चला रहे दुकानें
                                 स्वास्थ्य विभाग की ओर से जिन फर्जी चिकित्सकों के यहां छापेमारी कर उनके विरुद्ध मामला दर्ज करवाया था। वह अब भी बेखोफ होकर दुकानदारी कर लोगों के स्वास्थ्य से खिलवाड कर रहे हैं। उन्हें न तो कानून और न ही अधिकारियों का खौफ है। विभाग की कार्रवाही के बाद लोगों के सवाल उठ रहें हैं कि आखिर कब तक कानून से खिलवाड कब तक चलती रहेगी। 
यह था मामला
                     गौरतलब है कि 22 दिसंबर को स्वास्थ्य विभाग की ओर से पहले संतनगर में छापेमारी कर दो क्लीनिक सील किए गए व उनके सामान जब्त क र लिए गए। विभाग की टीम को देखकर दोनों झोला छाप डाक्टर दुकानें छोड फरार हो गए। उनके विरुद्ध विभाग की ओर से थाना रानियां में मामला दर्ज करवा दिया है। जिसके बाद टीम रानियां पहुंची व छापेमारी अभियान जारी रखा। विभाग की ओर से नकौडा बाजार व अन्य कई जगहों पर छापेमारी की। स्वास्थ्य विभाग रानियां में कई फर्जी डाक्टर पाए गए हैं। जो कि लोगों के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड कर रहे हैं। 

No comments