बड़े मियां तो बड़े मियां छोटे मियां सुभान अल्लाह

सिरसा(प्रैसवार्ता)। बचपन से ही भाजपा परिवार से जुड़े जगदीश चौपड़ा एडवोकेट के राजनीतिक वारिस के रूप में थोड़े समय में ही एक विशेष पहचान कायम करने वाले अमन चौपड़ा ने नगर परिषद सिरसा चुनाव में भाजपा ध्वज लहराने के लिए दिन-रात एक कर रखा है। शायद यहीं कारण रहा होगा कि परिषद चुनाव में भाजपा प्रत्याशियों की स्थिति मजबूत देखी जाने लगी है। नगर परिषद चुनाव में भाजपा के प्रत्याशियों ने मतदाताओं के दवाब के चलते अमन चौपड़ा की जनसंपर्क बैठके व जनसभाओं में आमंत्रित करने की होड़ सी लगी हुई है। अमन चौपड़ा से मिलने वाले व सुनने वालों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है। भाजपा की ओर से स्टार प्रचारक के रूप में उभर चुके अमन चौपड़ा ने अपने समर्थकों के साथ नगर परिषद चुनाव को प्रतिष्ठा का प्रश्र मानते हुए भाजपा प्रत्याशियों की जीत के लिए एडी चोटी का जोर लगा रखा है। काबिलेगौर है कि हरियाणा में  भाजपा की सरकार बनते ही भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने जगदीश चौपड़ा की योग्यता व क्षमता को देखते हुए उन्हें मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल खट्टर के राजनीतिक सलाहकार की जिम्मेवारी सौंप दी, जिसे जगदीश चौपड़ा बखूबी निभा रहे है। केवल इतना ही नहीं, चौपड़ा की सुझबूझ की बदौलत संकटों में घिरी मनोहर सरकार को संकटों से उभारकर अपनी कार्यकुशलता का बेहतर प्रमाण भी दिया है। राजनीतिक गलियारों में जगदीश चौपड़ा को सरकार का संकट मोचक भी कहा जाता है। चौपड़ा की बढ़ती व्यवस्थाओं के चलते उनके पुत्र अमन चौपड़ा ने भी उनका हाथ बंटाना शुरू कर दिया है। देखते ही देखते बदल चुकी राजनीतिक तस्वीर में अमन चौपड़ा की राजनीतिक चमक भी देखी जाने लगी है। मधुरभाषी, मैत्रीपूर्ण व्यवहार व हर किसी का मान सम्मान करने वाले अमन ने जगदीश चौपड़ा के पद चिन्हों पर राजनीति को भाईचारा व समाजसेवा में तबदील करके भाजपा परिवार का कुनबा बढ़ाने में महत्त्वपूर्ण भूमिका निभाई है।  जगदीश चौपड़ा की व्यवस्तता के चलते लोगों की निगाहें अब युवा नेता अमन चौपड़ा पर टिक गई और उन्होंने अमन से संपर्क बनाना शुरू कर दिया। अमन ने भी जनता की आशाओं पर खरा उतरते हुए अपनी ऐसी छवि बनाई कि लोगों को यह कहते भी सुना गया 'बड़े मिया तो बड़े मिया, छोटे मिया सुभान अल्लाहÓ। नगर परिषद चुनाव जिसे भविष्य के राजनीतिक आईना के रूप में देखा जा रहा है, इस चुनौती के स्वीकार करते हुए अमन चौपड़ा ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। यदि भाजपा नगर परिषद पर कब्जा करने में सफल हो जाती है, तो इसमें अमन चौपड़ा की महत्त्वपूर्ण भूमिका को अनदेखा नहीं किया जा सकता।

No comments