मल्टीटेलेंटिड पर्सनेंलिटी संत डॉ. गुरमीत राम रहीम इन्सां हुए सम्मानित

सिरसा(प्रैसवार्ता)। मल्टीटेलेंटिड पर्सनेंलिटी संत डॉ. गुरमीत राम रहीम इन्सां जायन्ट्स इंटरनेशनल अवार्ड 2016 से सम्मानित हुए है। संत डॉ. गुरमीत को यह अवार्ड समाज सुधार क्षेत्र में सराहनीय कार्य के लिए दिया गया है। प्रैसवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार मुंबई के एक निजी होटल में '44वें जायन्ट्स डे एंड अवार्ड फंक्शन' समारोह हुआ। इस अवसर पर केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावडेकर, संस्था के वल्र्ड चेयरमैन पदमश्री नाना चुडासमा, वल्र्ड चेयरपर्सन शैयना एनसी, डिप्टी वल्र्ड चेयरमेन नुरुद्दीन ए सेवाला, फिल्म अभिनेता ऋषि कपूर, अभिनेत्री दीपिका पादुकोण भी मौजूद रहे। समारोह में संत डॉ. गुरमीत को जायन्ट्स इंटरनेशनल अवार्ड 2016 से सम्मानित किया गया।  केंद्रीय मंत्री जावडेकर ने अपने संबोधन में कहा कि संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह इन्सां द्वारा समाज सुधार की दिशा में किए जा रहे कार्यों से समाज को नई दिशा मिली है। मानवता की सेवा में इनका नाम अनेक विश्व रिकार्ड हैं। 6 करोड़ से अधिक लोगों का नशा छुडवाया है जोकि बहुत बड़ी बात है। इसके अलावा महिलाओं के कल्याण के लिए, अनाथ बच्चों के लिए, रक्तदान, पौधारोपण व अन्य क्षेत्रों में जो कार्य किए हैं वो अपने आप में बेमिसाल है। संस्था की चेयरपर्सन शाईना एनसी ने कहा कि डेरा सच्चा सौदा द्वारा किए जा रहे समाज सुधार के कार्यों के लिए संत डॉ. गुरमीत को सम्मानित करते हुए संस्था गर्व महसूस कर रही है। उन्होंने कहा कि यह संस्था वर्ष 1972 से उल्लेखनीय कार्य करने वाली शख्सियतों को सम्मानित कर रही है। संस्था द्वारा सम्मानित होने वाली हस्तियों में मदर टेरेसा, रतन टाटा, मुकेश अंबानी, कुृमार मंगलम बिड़ला, लता मंगेशकर, अमिताभा बच्चन, दलीप कुमार, हेमा मालिनी, सचिन तेंदूलकर, महेश भूपति इत्यादि शामिल हैं। संत डॉ. गुरमीत ने कहा कि समाज सुधार के लिए सभी लोग मिलकर प्रयास करें तो समाज को सुधरने में देर नहीं लगेगी। बेटियों को मारना सभ्य समाज पर कलंक के समान हैं, बेटियां भी बेटों के समान अपने मां बाप का, देश का नाम रोशन कर सकती हैं। उन्होंने कहा कि सभी धर्म पे्रम व भाईचारे का संदेश देते हैं और धर्मों में कोई भेदभाव नहीं हैं।  

No comments