परमात्मा का अहसास करने के लिए ज्ञान का होना जरूरी: गुलाटी

चण्डीगढ़(प्रैसवार्ता)। संत निरंकारी मंडल के सचिव सीएल गुलाटी ने कहा कि आज दुनियां में लोगों के पास धन-दौलत व सुख सुविधाओं की कमी न होने के बावजूद भी आज का इंसान सुखी नहीं है। इंसान अंधकार में जीवन जी रहा है। घर में यदि अन्धेरा हो तो वहां दायं बांय पड़ा सामान दुख का कारण बन जाता है, ठीक उसी प्रकार जब तक इंसान के मन में उजाला न होने कारण वह दुनिया की सुख सुविधाओं का आनन्द नहीं उठा पाता। श्री गुलाटी चंडीगढ़ के सैक्टर 30 स्थित संत निरंकारी सत्संग भवन में श्रद्धालुओं को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि परमात्मा ने इतनी सुन्दर सृष्टि रचना की है। अनेकों खाने पीने की वस्तुएँ बनाई है। मनोरंजन के लिए कई प्रकार की रचनाएँ की हैं। इसके बावजूद इंसान के अंदर परमात्मा का एहसास न होने के कारण वह इनका वास्तविक आनन्द नहीं उठा पाता। इनका आनन्द केवल वही उठा पाते हैं, जिन्हें इसकी रचना करने वाले की जानकारी व उसके प्रति आदर सत्कार की भावना होती है और यह जानकारी केवल वर्तमान सतगुरू की शरण में आकर ही प्राप्त की जा सकती है।

No comments