सिरसा पहुँचे जाट नेता यशपाल मलिक

सिरसा(प्रैसवार्ता)। जाट संघर्ष समिति द्वारा अपनी मांगों को लेकर दिया जा रहा धरना सोमवार को भी जारी रहा। सोमवार को इस धरने पर राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक भी पहुँचे। प्रैसवार्ता को मिली जानकारी के अनुसार धरनारत् जाटों को संबोधित करते हुए यशपाल मलिक ने कहा कि 19 फरवरी के बाद आरक्षण आंदोलन को लेकर रणनीति बदली जाएगी। फिलहाल शांतिपूर्वक ही अपील की जा रही है। उन्होंने कहा कि जाटों की मांगे जायज हैं, जिससे सरकार को मान लेनी चाहिए, लेकिन सरकार अपनी जिद्द पर अड़ी है, इसके चलते जाटों को यह धरना-प्रदर्शन करने पर मजबूर होना पड़ा है। उन्होंने प्रदेश के मंत्रियों की ओर से की जा रही बयानबाजी के संबंध में कहा कि अभी तक एक भी मांग पूरी नहीं की गई है, जबकि हमने सरकार के सामने 7 मांगे रखी है। अभी तक गेंद सरकार के पाले में है। अगर मांगे मानी जाती है तो समझौता हो जाएगा। मलिक ने स्पष्ट किया कि जाटों की संख्या इस शांतिपूर्वक लड़ाई में बढ़ती जा रही है, इसलिए थोड़ी समस्या का होना स्वाभाविक है, लेकिन अभी तक रोड़ जाम नहीं हुआ है और न ही हम करेंगे। 19 फरवरी के बाद आरक्षण आंदोलन की रणनीति में बदलाव किया जाएगा। इस मौके पर अनेक जाट नेता मौजूद रहे।

1 comment: