राजनीति में युवा चेहरों की दस्तक ने बदली राजनीतिक तस्वीर

इंटरनेट से ली गई फोटो।
सिरसा(प्रैसवार्ता)। राष्ट्रीय व प्रदेश राजनीति की तर्ज पर हरियाणा के जिला सिरसा की राजनीति में युवा चेहरों की दस्तक से राजनीतिक तस्वीर में बदलाव आ गया है और इसी के साथ जिला के युवा वर्ग का राजनीतिक प्रेम बढऩे लगा है। स्थानीय निकाय तथा पंचायती राज चुनावों में शैक्षणिक योग्यता की अनिवार्यता से जहां मतदाताओं में जागरूकता आई है, वहीं कई राजसी दिग्गजों ने होनहार पुत्रों को राजनीतिक विरासत सौंप दी है। इनैलो के वरिष्ठ नेता अभय सिंह चौटाला के बेटे कर्ण चौटाला उपाध्यक्ष जिला परिषद, अजय चौटाला के बेटे दुष्यंत चौटाला सांसद, भाजपा अनुशासन समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रौ. गणेशी लाल के पुत्र मनीष सिंगला, हरियाणा पयर्टन निगम अध्यक्ष जगदीश चौपड़ा के पुत्र अमन चौपड़ा, डॉ. के.वी सिंह के बेटे अमित सिहाग, पूर्व मंत्री जगदीश नेहरा के पुत्र सुरेन्द्र नेहरा, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष अमीर चंद मेहता के पुत्र रोहित मेहता, कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता होशियारी लाल शर्मा के पुत्र राजकुमार शर्मा ने राजनीति में प्रवेश लेकर अपनी राजनीतिक सक्रियता बढ़ा दी है। इसी प्रकार भाजपा नेत्री सुनीता सेतिया के बेटे गोकुल सेतिया ने भी अपने राजनीतिक कदम बढ़ाने शुरू कर दिए है। राष्ट्रीय राजनीति की तरह हरियाणवी राजनीति में भी युवा वर्ग की निर्णायक भूमिका देखी गई है। जिला सिरसा के युवा वर्ग पर यदि फोक्स रखा जाए, तो स्पष्ट दिखाई देगा कि सोशल साईट्स युवा वर्ग की पहली पसंद हैं और उनकी सोच व नजरिया भी अलग है। सभी राजनीतिक दलों का प्रयास रहता है कि नए खून की इस ऊर्जा का फायदा उठाया जाए।  इसलिए युवा वर्ग को रिझाने के लिए कई प्रकार के प्रलोभन भी राजसी दिग्गजों की ओर से समय-समय पर दिए जाते देखे जा सकते है। भाजपा का युवा मोर्चा तथा कांग्रेस की युवा कांग्रेस में युवा वर्ग की भागीदारी तेजी से बढ़ रही है, क्योंकि इन दोनो राष्ट्रीय दलों का मानना है कि युवा वर्ग न सिर्फ पार्टी की रीढ़ होता है, बल्कि सत्ता में बदलाव के लिए सक्षम भी साबित हो सकते है। कांग्रेस युवा वर्ग में पकड़ बनाने के लिए राहुल गांधी, प्रियंका गांधी के नाम का सहारा ले रही है। सिरसा में युवा कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक तंवर की डुगडुगी नवीन केडिया के हाथ में है। नवीन केडिया ने युवा वर्ग की भूमिका को मध्यनजर रखते हुए जिला भर में युवाओं को कांग्रेसी मंच पर लाने के लाने के लिए विशेष अभियान चलाया हुआ है, वहीं भाजपा के युवा नेता मनीष सिंगला, अमन चौपड़ा की सक्रियता की अनदेखी नहीं की जा सकती। इनैलो ने युवा चेहरे धर्मवीर नैन को युवा इनैलो की कमान दी हुई है, जबकि इनसो की बागडोर दिग्विजय चौटाला के हाथ में है। जिला सिरसा में युवा वर्ग की राजनीति में सक्रियता को देखते हुए राजसी दिग्गजों ने अपने-अपने युवा चेहरों को आगे बढ़ाना शुरू कर दिया है, जिससे राजनीतिक तस्वीर में बदलाव स्पष्ट दिखाई देने लगा है।

No comments