भूपेंद्र हुड्डा के बढ़ते राजनीतिक प्रभाव से हरियाणवी कांग्रेस में उत्साह

congress
सिरसा(प्रैसवार्ता)। कई राजनीतिक झटकों को झटका देकर कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व में अपना दबदबा कायम करने वाले पूर्व मुख्यमंत्री हरियाणा भूपेंद्र हुड्डा के बढ़ते राजनीतिक प्रभाव से प्रदेश के कांग्रेसीजनों में उत्साह देखा जाने लगा है। उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव हो या पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह का शपथ ग्रहण समारोह में शीर्ष नेतृत्व द्वारा भूपेंद्र हुड्डा को दी गई तव्वजों से हरियाणवी कांग्रेस की तस्वीर में बदलाव देखा जाने लगा है। हरियाणा कांग्रेस की कमान पूर्व सांसद अशोक तंवर पिछले तीन वर्ष से संभाले हुए है, मगर इकलौता कांग्रेसी सांसद के अतिरिक्त पंद्रह में से चौदह कांग्रेसी विधायकों ने हमेशा मौजूदा कांग्रेस प्रधान की बैठकों से न केवल दूरी बनाए रखी है, बल्कि पार्टी नेतृत्व की मांग को लेकर मोर्चा खोल दिया है। भूपेंद्र हुड्डा को कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व की ओर से दी जा रही तव्वजों से संकेत मिलते है कि हरियाणवी कांग्रेस का भविष्य में चौधरी भूपेंद्र हुड्डा का पसंदीदा ही होगा। पंजाब में कांग्रेसी शासन की वापिसी की तर्ज पर कांग्रेस हाईकमान भूपेंद्र हुड्डा पर दाव खेलने पर गंभीरता से विचार कर रहा है, क्योंकि हरियाणा में सत्तारूढ़ भाजपा आपसी कलह से झुलस रही है और प्रदेशवासियों का फोक्स समांत र कांग्रेस चला रहे भूपेंद्र हुड्डा पर बनता नजर आ रहा है। कांग्रेस हाईकमान अशोक तंवर की जगह किसी ऐसे चेहरे की कमान देने की सोच रखता है कि कांग्रेस का दलित वोट बैंक कांग्रेस से दूर न हो जाए। इसलिए किसी दलित वर्ग के पार्टी की चौधर के आसार बन सकते है। यदि ऐसी राजनीतिक स्थिति उत्पन्न होती है, तो भूपेंद्र हुड्डा की पसंदीदा गीता भुक्कल की लॉटरी खुल सकती है। कांग्रेस राज्यसभा सदस्या सुश्री शैलजा पर विश्वास बना सकती है, मगर सुश्री शैलजा के भूपेंद्र हुड्डा से राजनीतिक मतभेद कांग्रेसीजनों को एक मंच पर लाने में विफल हो सकते है। तंवर और हुड्डा की राजनीतिक आँख मिचौली से प्रदेश में कांग्रेस का जनाधार तीव्र गति से कम हुआ है। प्रदेश कांग्रेस का एक बड़ा वर्ग संगठन नेतृत्व में परिवर्तन की खुलकर वकालत कर रहा है। कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी तथा उपाध्यक्ष राहुल गांधी की विदेश वापिसी के बाद  किसी भी समय प्रदेश कांग्रेस को नया चौधरी मिल सकता है, जिसकी बकायदा पटकथा तैयार हो चुकी है।

No comments