अमित शाह ने असंतुष्ट भाजपाईयों को दिया झटका


Amit Shah
सिरसा(प्रैसवार्ता)। अपने तीन दिवसीय हरियाणा प्रवास के दौरान भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह द्वारा राज्य की राजनीतिक तस्वीर, भाजपाई संगठन का मानचित्रतथा भाजपाई दिग्गजों व कार्यकर्ताओं की भावनाओं पर गंभीरता से मंथन उपरांत मुख्यमंत्री हरियाणा मनोहर लाल खट्टर को क्लीन चिट देकर उससे नाराज चल रहे असंतुष्ट भाजपाई सांसद, विधायक व दिग्गजों की बेचैनी बढ़ा दी है और उन्हें अपने राजनीतिक भविष्य पर संकट के बादल मंडराते दिखाई देने लगे है। मंत्रियों के रिपोर्ट कार्ड को लेकर अमित शाह की नाराजगी से कई मंत्रियों की धड़कने भी बढ़ गई है। शाह ने भाजपाई दिग्गजों, पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं को मिशन 2019 के लिए टिप्स भी दिए और उनकी समस्याएं सुनकर कुछ जरूरी निर्देश भी मंत्रियों को दिए। शाह ने स्पष्ट किया कि भाजपा की कल्याणकारी योजनाओं का पूरे देश में अच्छा प्रभाव देखा जाने लगा है और हमें उन योजनाओं से लोगों को जागरूक करवाना होगा। हरियाणा की खट्टर सरकार की प्रशंसा करते हुए उन्होंने घोषणा की है कि खट्टर के नेतृत्व में ही चुनाव लड़ा जाएगा। इस घोषणा से भले ही भाजपा का शीर्ष नेतृत्व उन 43 विधानसभाई क्षेत्रों पर भगवा लहराने का ख्वाब देखने लगा हो, मगर 47 विधानसभाई क्षेत्रों में करीब डेढ़ दर्जन क्षेत्रों में भाजपा की नैया हिचकौले खा रही है। समय रहते हुए यदि हिचकोलों पर अंकुश लग गया, तो भाजपा के ख्वाबों को उड़ान मिल सकती है। असंतुष्ट भाजपाई दिग्गजों को खट्टर शरणम् होना ही पड़ेगा अन्यथा उनके राजनीतिक भविष्य पर प्रश्र चिन्ह लग सकता है। भाजपा सुप्रीमों द्वारा प्राप्त की संगठन व सरकार संबंधी जानकारी और मंत्रियों तथा दिग्गजों को दिए गए निर्देश क्या रंग लाएंगे, यह तो आने वाला समय ही बताएगा, मगर शाह ने प्रदेश के भाजपाईयों को मिशन 2019 का मानचित्र सौंपकर भाजपाई कुनबा बढ़ाने का संकेत देकर भाजपाईयों को उत्साहित जरूर कर दिया है।

No comments