सेवानिवृत्त सीबीआई अधिकारी से जांच के लिए ली जाएगी सहायता: देव

सिरसा(प्रैसवार्ता)। स्टॉफ की कमी के चलते हरियाणा पुलिस का विजीलेंस विभाग जांच के लिए सीबीआई के सेवानिवृत्त अधिकारियों से सहायता लेगा, ताकि भ्रष्टाचार से जुड़े मामलों का निपटारा हो सके। स्टेट विजीलेंस ब्यूरों हरियाणा के महानिदेशक पीआर देव के अनुसार जांच की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए सीबीआई के सेवानिवृत्त पुलिस अधीक्षक, सहायक पुलिस अधीक्षक तथा उप पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारियों की सेवाएं ली जाएगी। इसके लिए आवेदन पत्र हरियाणा राज्य चौकसी ब्यूरों की वेबसाइट पर उपलब्ध करवाया जा चुका है। देव का दावा है कि इन अधिकारियों के आने से विजीलेंस के काम में तेजी आएगी तथा क्वालटी में सुधार होगा। वर्तमान में विजीलेंस विभाग द्वारा राज्यस्तरीय घोटालों की जांच की जा रही है, जिनमें कौशल्या डैम निर्माण घोटाला, पंचकूला की शामलात भूमि के अधिग्रहण घाटाला, पंचकुला में ही औद्योगिक प्लांट आवंटन घोटाला, फरीदाबाद का पिलर बॉक्स घोटाला, गुरुग्राम में पांच सितारा पुल मैन होटल का रास्ता देने का घोटाला,एचसीएस की नियुक्तियों में गड़बड़ी, अंबाला का मनरेगा घोटाला तथा एनआईटी फरीदाबाद में 8 हजार वर्ग गज सरकारी भूमि का आवंटन घोटाला शामिल है।

No comments