खट्टर सरकार नहीं रोक सकती भ्रष्ट तंत्र का फर्जीवाडा!

फतेहाबाद(प्रैसवार्ता)। स्थानीय लोक निर्माण विभाग भवन तथा मार्ग मंडल फतेहाबाद में प्रांतीय उपमंडल प्रथम की तर्ज पर उपमंडल द्वितीय, उपमंडल भूना व टोहाना में भी फर्जीवाडा शुरू हो चुका है और विभाग का भ्रष्ट तंत्र बेनामी भागीदारी को तव्वजों देने लगा है। प्रांतीय उपमंडल प्रथम की तीन कनिष्ठ अभियंताओं की त्रिवेणी के फर्जीवाडे के सामने मुख्य अभियंता, अधीक्षण अभियंता, कार्यकारी तथा उपमंडल अभियंता ने हथियार डाल दिए है, क्योंकि इस त्रिवेणी को भाजपाई दिग्गजों का स्पष्ट आशीर्वाद है, जो विकास कार्य कर रही एजेंसीज तथा ठेकेदारों से बेनामी भागीदारी बनाए हुए है। भाजपाई दिग्गज डीके अग्रवाल, पूर्व पंच अमरीक सिंह तथा सेवानिवृत्त अभियंता वीपी चौधरी द्वारा मुख्यमंत्री सहित वरिष्ठ अधिकारियों को विवरण व फर्जीवाडे के तथ्यों के प्रमाण प्रेषित करने उपरांत भी घपलेबाजी थमने का नाम  नहीं ले रही, बल्कि शिकायतों को ठंडे बस्ते में डलवाने के नाम पर ठेकेदारों व एजेंसीज से मोटी राशि वसूली जा रही है। वर्तमान में  उपमंडल प्रथम की देखरेख में होने वाले विकास कार्यों में नियमों की अनदेखी करके भारी गड़बड़ी की जा रही है। ऐसे विकास कार्यों में रतिया से बबनपुर रोड, वैरियस रोड अंडर हैड 5054 वर्क प्रोग्राम 2016-17 इन पीएसडी रतिया, निर्माणाधीन पशु चिकित्सालय रतिया, फतेहाबाद-भट्टू भादरा रोड, वैरियस रोड अंडर हैड 5054 वर्क प्रोग्राम 2016-17 इन पीएसडी फतेहाबाद, कंस्ट्रैक्शन अपरोच आरओबी रेलवे क्रांसिंग सी-123 भट्टूकलां, एसडीएम कॉपलेक्स रतिया, मुथार से चुगवाली सडक शामिल है, जबकि विभागीय अभियंता दलीप मित्तल(काल्पनिक नाम) के अनुसार उपमंडल द्वितीय में ईवीएम वेयर हाऊस, मिनी सैक्ट्रीयेट फतेहाबाद, सैक्टर 5 फतेहाबाद में निर्माणाधीन बस स्टैंड तथा धांगड़ से बिसला माजरा रोड़ पर विभागीय भ्रष्ट तंत्र की मदद के चलते जमकर घपलेबाजी व फर्जीवाडा किया जा रहा है। इस घपलेबाजी तथा फर्जीवाडे को विभागीय तंत्र के अनुसार कई भाजपाई दिग्गजों का खुला सरंक्षण प्राप्त है, जिस कारण जांच के नाम पर कागजी कार्रवाई की जा रही है।

No comments