हरियाणा में भाजपा की दूसरी पारी की तैयारी, कांग्रेस आपसी कलह की चपेट में - The Pressvarta Trust

Breaking

Friday, November 24, 2017

हरियाणा में भाजपा की दूसरी पारी की तैयारी, कांग्रेस आपसी कलह की चपेट में

सिरसा(प्रैसवार्ता)। खुफिया एजेंसीज से करवाए गए अनौपचारिक सर्वे से हरियाणा भाजपा सतर्क हो गई है और उसने दूसरी पारी खेलने की तैयारी शुरू कर दी है। भाजपाई दिग्गजों के प्रति मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की राजनीतिक सोच में बदलाव और अफसरशाही पर लगाम कसने की कवायद से हरियाणा भाजपा का राजनीतिक मानचित्र तेजी से करवट लेने लगा है। हरियाणा में भाजपा की दूसरी पारी की कमान राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने संभाल ली है और मौजूदा भाजपाई विधायकों का फीड बैक एकत्रित किया जाने लगा है। संघ प्रदेश के कुछ विधानसभा क्षेत्रों के लिए नए चेहरे पर फोक्स बनाए हुए है, जो संगठन के प्रति पूर्णतया समर्पित करने तथा स्वच्छ छवि के स्वामी है। भाजपा के राष्ट्रीयाध्यक्ष अमित शाह संकेत दे चुके है कि प्रदेश में भाजपा दूसरी पारी मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के नेतृत्व में ही खेलेगी। संघ ने संगठन की मौजूदा तस्वीर भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को दिखा दी है, जबकि प्रदेश मीडिया प्रभारी राजीव जैन के सुझाव को शीर्ष नेतृत्व ने हरी झंडी दिखाते हुए सरकार को मीडिया के साथ मधुर संबंध बनाने के निर्देश दिए है। हरियाणा सरकार ने मीडिया कर्मियों की पुरानी मांगों के समाधान व अन्य सुविधाओं को उपलब्ध करवाने पर गंभीरता से विचार विमर्श शुरू कर दिया है, जिस पर जल्द ही अमलीजामा पहनाया जा सकता है। इसी प्रकार भाजपा हरियाणा कांग्रेस के आपसी कलह को भी अपने लिए लाभदायक मानकर चल रही है, जबकि प्रमुख विपक्षी इनैलो से कोई राजनीतिक भय नहीं मानती। हरियाणा में संघ ने संगठन को मजबूती देेने के लिए परिश्रमी, समर्पित, निष्क्रिय भाजपाईयों से संपर्क बढाना शुरू कर दिया है। हरियाणा में आगामी विधानसभा चुनाव के रंग, ढंग और तौर-तरीके बदलते हुए दिखाई देंगे, क्योंकि भाजपा ने खंड व तहसील स्तर पर पार्टी कार्यालय बनाने और उनका एक दूसरे कार्यालय से संपर्क बनाने तथा बूथ स्तर से भी नीचे मतदाता सूची के आधार पर पन्ना प्रमुखों को नियुक्ति देने की योजना बनाई है। भाजपा पूरे प्रदेश में आत्याधुनिक सामग्री से मीडिया को रिसर्च सामग्री व इलैक्ट्रोनिक मीडिया को हरसंभव फीड मुहैया करवाने को प्राथमिकता देगी और प्रदेशभर के सभी कार्यालय चौबीस घंटे खुले रखेगी। कार्यालयों से रिपोर्ट प्रतिदिन मुख्यालय तक पहुंचाई जाएगी और फिर उस पर मंथन उपरांत विचार विमर्श भाजपाई दिग्गजों की देखरेख में होगा। हरियाणा में भाजपा ने दूसरी पार खेलते हुए कमर कसते हुए नई रणनीति पर अमलीजामा पहनाये जाने की कवायद शुरू कर दी है।

No comments:

Post a Comment

Pages